बुरे फंसे अक्षय कुमार! नागरिकता के बाद नेशनल अवॉर्ड पर खड़े हो गए सवाल,


अक्षय कुमार इन दिनों काफी चर्चा में चल रहे है और उसकी एक वजह पीएम मोदी से इंटरव्यू लेना और दूसरी उनका कनाडियन पासपोर्ट. अक्षय कुमार ने हाल ही में अपने कनाडा के पासपोर्ट को लेकर ट्वीट कर कहा था,”मुझे समझ नहीं आता कि मेरी नागरिकता को लेकर इतना नकारात्मक माहौल क्यों बनाया जाता है? मैंने इस बात को कभी नहीं छिपाया और ना ही मना किया है कि मेरे पास कनाडा का पासपोर्ट है. ये भी सच है कि मैं पिछले सात सालों में कनाडा नहीं गया हूं.” इसके बाद भी अक्षय की मुसीबतें खत्म नहीं हुई और उनके नेशनल अवॉर्ड को लेकर विवाद बढ़ गया है.

बॉलीवुड के स्क्रीनराइटर अपूर्व असरानी ने अक्षय कुमार को नेशनल अवॉर्ड दिए जाने पर सवाल उठाए हैंं. अक्षय को साल 2017 में रुस्तम और एयरलिफ्ट के लिए बेस्ट एक्टर का नेशनल अवॉर्ड दिया गया था. जिस पर अब सवाल खड़े किए गए हैं और असरानी ने कहा,”ये काफी अहम सवाल है. क्या कनाडाई नागरिक भारतीय नेशनल अवॉर्ड के लिए योग्य हैं? जिस साल (2016) अक्षय कुमार ने ‘बेस्ट एक्टर’ का अवॉर्ड जीता, उस साल हमें ‘अलीगढ़’ के लिए मनोज वाजपेयी के जीतने की उम्मीद थी. अगर ज्यूरी ने इस मामले में कोई गलती की है, तो क्या इसमें सुधार किया जाएगा?”

तो वहीं असरानी के इस सवाल पर नेशनल फिल्म अवॉर्ड्स की ज्यूरी का हिस्सा रहे डायरेक्टर राहुल ढोलकिया जवाब देते हुए कहा,”दूसरे देश के नागरिक भी नेशनल अवॉर्ड पा सकते हैं. इसका जिक्र कानून में है.” अक्षय कुमार ने लोकसभा चुनाव के लिए वोट नहीं दिया था और इस पर कुछ लोगों ने उन्हें ट्रोल करते हुए कहा कि देशभक्ति की बात करते हैं लेकिन वोट नहीं डाला. इसके बाद अक्षय ने अपनी नागरिकता को लेकर साफतौर पर बात की लेकिन नागरिकता के बाद अब उनके नेशनल अवॉर्ड को लेकर चर्चा हो रही है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap