बीजेपी नेताओं ने दी मीडिया को रिश्वत, महिला IAS ने दिए सख्त एक्शन के आदेश,

लद्दाख में लोकसभा चुनाव से पहले पार्टी के पक्ष में रिपोर्ट करने के लिए जम्मू एंड कश्मीर के बीजेपी नेताओं द्वारा लेह में मीडियाकर्मियों को लिफाफे में पैसे दिए जाने की शिकायतों की प्रथम दृष्टया सही पाया गया है. इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार लेह जिला निर्वाचन अधिकारी और उपायुक्त अवनी लवासा ने कहा हमने पुलिस के माध्यम से जिला अदालत का दरवाजा खटखटाया, मामले में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए निर्देश मांगे हालांकि अदालत ने इस मामले में अब तक कोई आदेश जारी नहीं किया है.

उन्होंने कहा शिकायतों में भाजपा नेताओं द्वारा आदर्श आचार संहिता का कथित उल्लंघन किया गया है. संयोग से आईएएस के 2013 बैच से जम्मू-कश्मीर कैडर के अधिकारी, लवासा, जो खुद पूर्व आईएएस अधिकारी, चुनाव आयुक्त अशोक लवासा की बेटी हैं. सोमवार को पांचवें चरण में लद्दाख सीट पर मतदान हुआ.

लवासा ने कहा कि मीडियाकर्मियों को रिश्वत देने के आरोपों के बाद प्रथम दृष्टया सही पाया गया उन्होंने कहा “हमने पुलिस को एफआईआर या शिकायत दर्ज करने के लिए लिखा है” उन्होंने कहा पुलिस ने शिकायत दर्ज की और मंगलवार को अदालत में पेश किया है. लवासा ने कहा, “हम मामले में प्राथमिकी दर्ज करने की दलील दे रहे हैं.

लेह प्रेस क्लब ने जिला निर्वाचन अधिकारी और एसएचओ लेह के साथ अलग-अलग शिकायतें दर्ज की थीं, जिसमें भाजपा और उसके अध्यक्ष रविंद्र रैना और एमएलसी विक्रम रंधावा सहित वरिष्ठ भाजपा नेताओं पर दो मई को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में रिश्वत देने का आरोप लगाया था.