नीरव मोदी को ब्रिटेन की कोर्ट से लगा फिर झटका, तीसरी बार जमानत याचिका खारिज,

भारत के भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को एक बार फिर से ब्रिटेन की कोर्ट से झटका लगा है. 

लंदन की एक कोर्ट ने नीरव मोदी की जमानत याचिका तीसरी बार खारिज कर दी है. बुधवार को नीरव मोदी की जमानत वाली याचिका पर सुनवाई कर रहीं लंदन की वेस्टमिंस्टर कोर्ट की मुख्य मजिस्ट्रेट एमा अर्बुथनोट ने उनकी याचिका को ठुकरा दिया.

बता दें कि नीरव मोदी की ओर से कोर्ट में जमानत राशि दो गुना कर 20 लाख पाउंड बढ़ाने की पेशकश की गई थी जिसे कोर्ट ने ठुकरा दिया. कोर्ट में नीरव मोदी ने यह भी पेशकश की थी कि वह जमानत मिलने के बाद चौबीसों घंटे अपने लंदन वाले फ्लैट में ही रहेंगे.

कोर्ट में उनके बैरिस्टर क्लेर मोंटगोमरी ने जज से अपील करते हुए कहा, “वैंड्सवर्थ जेल की स्थिति बेहद खराब है, जिसके आधार पर उन्हें जमानत दी जाए. नीरव मोदी किसी भी शर्त का पालन करने के लिए तैयार हैं” मजिस्ट्रेट ने अपील ठुकराते हुए कहा कि, “20 लाख पाउंड की रकम उन चिंताओं से बड़ी नहीं है कि जमानत देने पर मोदी आत्मसमर्पण करने को तैयार होंगे भी या नहीं.” इससे पहले भी नीरव मोदी की दो बार जमानत याचिका खारिज हो चुकी है. दूसरी बार नीरव की जमानत याचिका 29 मार्च को कोर्ट ने खारिज कर दी थी.

नीरव मोदी को अब 30 मई को कोर्ट के सामने पेश होना होगा. बता दें कि हीरा कारोबारी नीरव मोदी पंजाब नेशनल बैंक का करीब 13हजार करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग का आरोपी है. लंदन में नीरव मोदी को तब गिरफ्तार कर लिया गया था जब वह 9 मार्च को बैंक में अकाउंट खुलवाने पहुंचा था. उसके बाद बैंक कर्मचारी ने पुलिस के उसके बारे में सूचना दे दी और उसे गिरफ्तार कर लिया गया. फिलहाल नीरव मोदी को लंदन की वांड्सवर्थ जेल में रखा गया है.