Netflix, Amazon Prime और Hotstar पर गिरी सुप्रीम कोर्ट की गाज, केंद्र सरकार को जारी हुआ नोटिस,

मनोरंजन के आजकल तमाम साधन आ गए है पहले सिर्फ हमारे पास टीवी होती थी जिसमें हम फिल्में और शो देखते थे

लेकिन अब वेबसीरीज की बाढ़ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रोजाना बढ़ती जा रही हैं. वेबसीरीज के लिए अलग से प्लेटफॉर्म बना दिए गए हैं और इस पर हर तरह के शो और सीरीज आती है. वेबसीरीज के लिए फेमस प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम, नेटफ्लिक्स और हॉटस्टार के लिए अब सुप्रीम कोर्ट की तरफ से बुरी खबर आई है. अभी तक इन प्लेटफॉर्म पर कोई रोक नहीं लगी थी और इनपर खूब गाली-गलौच और अश्लीलता परोसी जा रही थी लेकिन अब ऐसा नहीं हो पाएगा.

सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को नोटिस जारी किया है और उसमें कहा,”सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर इन फ्लेटफॉर्म पर दिखाए जाने वाले कंटेंट को लेकर नई गाइडलाइंस बनाने और इन्हें विनियमित करने की बात कही है.” 

NGO की याचिका में कहा गया कि,”नियंत्रण न होने के कारण इस तरह के प्लेटफॉर्म्स पर अश्लीलता परोसी जा रही है. धर्म और नैतिकता से जुड़ी चीजों के साथ छेड़छाड़ की जा रही है. साथ ही इन वेब सीरीज और फिल्मों के माध्यम से भारतीय दंड संहिता और इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट जैसे प्रावधानों का हनन भी हो रहा है.”

बता दें कि नेटफ्लिक्स और अमेजन प्राइम और हॉटस्टार जैसे प्लेटफॉर्म पर सेक्रेड गेम्स, मिर्जापुर, अपहरण जैसी बड़ी सीरीज रिलीज की जा रही है जिनमें अश्लीलता और अभद्र भाषा का प्रयोग किया जा रहा है.अगर आने वाले दिनों में नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम और हॉटस्टार पर केंद्र सरकार कोई एक्शन लेती है तो सेक्रेड गेम्स के दूसरे पार्ट पर इसका बुरा असर पड़ सकता है.

 
hi_INHindi
hi_INHindi