चुनावी रैली में बोले कमल हासन- नाथूराम गोडसे आजाद भारत का पहला हिंदू आतंकवादी

अभिनेता से नेता बने और मक्कल नीधि मैयम के संस्थापक कमल हासन ने एक बार फिर से विवाद पैदा कर दिया. 

इस बार उन्होंने एक चुनाव जनसभा में कहा कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिंदू था. दरअसल, हासन रविवार को जनसभा के दौरान नाथूराम गोडसे की बात कर रहे थे,

उन्होंने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं, जो समानता वाला भारत चाहते हैं. हासन ने कहा कि, ‘‘मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं. आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है. वहीं से इसकी शुरुआत हुई.’’ कमल हासन यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आए हैं. बता दें कि 30 जनवरी 1948 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोलीमारकर हत्या कर दी गई थी.

बता दें कि ये कोई पहला मौका नहीं है जब कमल हासन ने इस तरह की टिप्पणी की हो. इससे पहले वह दक्षिणपंथी चरमपंथ पर निशाना साध चुके हैं. करीब डेढ़ साल पहले कमल हासन ने इस बारे में एक लेख भी लिखा था, जिसे लेकर खूब बवाल हुआ था.

इस लेख में हासन ने लिखा था कि, दक्षिणपंथी समूहों ने हिंसा का दामन इसलिये थामा क्योंकि उनकी पुरानी रणनीतिने काम करना बंद कर दिया है. हासन का ये लेख ‘आनंद विकटन’ पत्रिका के अंक में छपा था. जिसमें आरोप लगाया गया था कि दक्षिणपंथी संगठनों ने अपने रुख में बदलाव किया है.