कैप्टन कूल धोनी को आंतकवादी कहकर बुलाते थे टीम के खिलाड़ी,

जिस खिलाड़ी को पूरी दुनिया कैप्टन कूल के नाम से जानती है उसी एस एस धोनी को उनकी टीम के खिलाड़ी आंतकवादी कहकर बुलाते थे.

धोनी के करीबी दोस्त और बिहार टीम के पूर्व खिलाड़ी सत्य प्रकाश ने बीते दिनों को याद करते हुए इस बार में जानकारी दी है.

स्पोर्टस्टार को दिए अपने इंटरव्यू में सत्यप्रकाश ने कहा कि, हम उन्हें आंतकवादी कहकर बुलाते थे वह 20 गेंदों पर 40-50 रन बना दिया करते थे.

आईपीएल के इस सीजन में खेलेत हुए धोनी ने अंतिम के ओवरों में आकर काफी विस्फोटक बल्लेबाजी की थी. लेकिन धोनी ने जब टीम इंडिया के लिए खेलना शुरू किया था तब वो ऐसे नहीं खेलते थे.  सत्यप्रकाश ने अपने इंट्रव्यू में इस बात को भी कहा कि, जब धोनीा ने देश के लिए खेलना चालू किया तो वो संत बन गए और उन्होंने अपना पूरा नजरिया ही बदल लिया.

सत्य प्रकाश ने धोनी को खड़गपुर रेलवे स्टेशन में नौकरी दिलवाने में अहम भूमिका निभाई थी. धोनी पर बनी फिल्म, ‘एमएधोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’ में भी इस बात को दिखया गया है.

सत्यप्रकाश वर्तमान में खड़गपुर प्रीमियर लीग में खेल रहे है. सत्रप्रकाश ने धोनी की कप्तानी की जमकर तारीफ की है. उन्होंने कहा कि धोनी ने बिहार की तरफ से खेलते हुए काफी कम मैचों में कप्तानी की है. वहीं टीम इंडिया में भी वो काफी कम अंतराल में ही कप्तान बन गए. धोनी आज दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक है.

बता दें, धोनी ने साल 2004 में अंतराष्ट्रिय क्रिकेट में पदार्पण किया था. टीम इंडिया में खेलने से पहले वो 2000 में बिहार की तरफ से खेलते थे.  धोनी जब बिहार के लिए खेलते थे उस दौरान टीम के साथ के खिलाड़ियों के साथ उनकी बांडिग काफी अच्छी थी.