बंगाल में बवाल: बीजेपी नेताओं के घर पर चिपकाए गए पोस्टर, हत्या की धमकी


बर्दवान में जय बंगला के नाम पर पोस्टर लगाकर बीजेपी कार्यकर्ताओं को धमकी दी गई है. इस धमकी में कहा गया है कि अगर बीजेपी कार्यकर्ता जुलूस निकालते हैं तो उनकी हत्या कर दी जाएगी.
बीजेपी कार्यकर्ताओं के घर चिपकाए गए पोस्टर

लोकसभा चुनाव के बाद भी बंगाल में बवाल थमता नहीं नजर आ रहा है. बीजेपी को ओर से जगह-जगह निकाले जा रहे विजय जुलूस का विरोध हो रहा है. बर्दवान में जय बंगला के नाम पर पोस्टर लगाकर बीजेपी कार्यकर्ताओं को धमकी दी गई है. इस धमकी में कहा गया है कि अगर बीजेपी कार्यकर्ता जुलूस निकालते हैं तो उनकी हत्या कर दी जाएगी.

शुक्रवार को बर्दवान के रथतला में कई बीजेपी कार्यकर्ताओं के घरों पर जय बंगला के नाम से माओवादियों के स्टाइल में पोस्टर चिपकाए गए हैं. इस पोस्टर में जुलूस में शामिल होने अथवा झंडा लगाने की स्थिति में हत्या करने तक की धमकी दी गई है. बीजेपी ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर ये पोस्टर लगाने का आरोप लगाया है.

बर्दवान बीजेपी नगर कमेटी के सदस्य प्रशांत राय ने बताया कि पिछले 4 तारीख को ही उन्होंने विजय जुलूस की अनुमति ली थी, लेकिन अचानक से गुरुवार रात प्रशासन की ओर से उन्हें इस बात की सूचना दी गई कि विजय जुलूस आयोजित नहीं किया जा सकेगा.

प्रशांत राय ने कहा कि उनके घर के साथ ही कई अन्य बीजेपी कार्यकर्ताओं के घर पर जय बंगला के नाम से माओवादियों के स्टाइल में पोस्टर चिपकाए गए हैं, जिसमें जुलूस में शामिल होने अथवा झंडा लगाने की स्थिति में हत्या करने तक की धमकी दी गई है. हमने बर्दवान थाने में शिकायत दर्ज कराई है. इन सब के पीछे टीएमसी के कार्यकर्ताओ का हाथ है. हम इसे लेकर आंदोलन भी करेंगे.

टीएमसी के बर्दवान के जेनेरल सेक्रेटरी खोकन दास ने आरोप को झूठा बताते हुए कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने ही ये पोस्टर लगाए है. बता दें, कुछ दिन पहले बंगाल में टीएमसी के दो कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई थी. टीएमसी ने इस हत्या का आरोप बीजेपी नेताओं पर लगाया था. ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी ने धोखे से 18 सीटें जीत लीं.

ममता बनर्जी ने कहा था, ‘हम इंसाफ चाहते हैं. दोषियों को बख्शा नहीं जा सकता. मेरे डीजी यहां हैं. जो लोग साजिशकर्ता हैं उनकी छानबीन होनी चाहिए. उन्होंने (बीजेपी) धोखा कर 18 सीटें जीत लीं लेकिन वे लोगों को नहीं मार सकते और न ही हिंसा फैला सकते हैं.’ ममता बनर्जी ने कहा, ‘1984 में इंदिरा गांधी की जब मौत हुई, तब हिंसा भड़क गई थी लेकिन बीजेपी हिंसा फैला रही है. बीजेपी जहां जहां जीती है वहां हिंसा बढ़ी है.’

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap