पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी गिरफ़्तार


Image result for Asif Ali Jardari Aressted Pics

पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति और पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के सह-प्रमुख आसिफ़ अली ज़रदारी को नेशनल अकाउंटबिलिटी ब्यूरो यानी नैब (एनबी) की टीम ने गिरफ़्तार कर लिया है.

इस्लामाबाद हाई कोर्ट ने सोमवार को मनी लॉन्डरिंग केस में ज़रदारी और उनकी बहन फ़रयाल तालपुर की अग्रिम ज़मानत की याचिका ख़ारिज कर दी थी.

जस्टिस आमिर फ़ारूक़ और जस्टिस मोहसिन अख़्तर कियानी की बेंच ने ज़मानत याचिका ख़ारिज करने के बाद उनकी गिरफ़्तारी का आदेश दे दिया.

ज़रदारी और उनकी बहन मनी लॉन्डरिंग केस में मुख्य अभियुक्त हैं. इन पर अवैध बैंक अकाउंट और देश से बाहर पैसे भेजने के आरोप हैं. इस्लामाबाद स्थित ज़रदारी के घर पर बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मी पहुंचे थे.

पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शुरू में ज़रदारी के घर में नैब की टीम को आने से रोक दिया गया था. गिरफ़्तारी से पहले नैब की टीम को पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के स्पीकर से अनुमति लेनी पड़ी.

आसिफ़ अली ज़रदारी

कोर्ट का फ़ैसला आने से पहले ही ज़रदारी और उनकी बहन बाहर निकल गए थे. ज़रदारी के पास इस्लामाबाद हाई कोर्ट के फ़ैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने का विकल्प है.

ज़रदारी और उनकी बहन पर इस मामले में फ़र्ज़ी बैंक अकाउंट के ज़रिए 4.4 अरब रुपए देश से बाहर भेजने का आरोप है. पीपीपी प्रमुख और आसिफ़ अली ज़रदारी के बेटे बिलावल भुट्टो ने गिरफ़्तारी के बाद अपने कार्यकर्ताओं से शांत रहने की अपील की है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap