इंदौर: बैठक में ‘जन-गण-मन’ अधूरा छोड़कर अचानक ‘वंदे मातरम’ गाने लगे पार्षद, VIDEO वायरल

राष्ट्रगान गाने में हुई गड़बड़ी को लेकर इंदौर नगर निगम के सभापति अजय सिंह नरूका ने कहा कि यह चूक संभवतः किसी पार्षद की जुबान फिसलने से हुई. हालांकि, इस चूक के पीछे मुझे किसी की कोई दुर्भावना प्रतीत नहीं होती है.

National anthem recital stopped midway at Indore Municipal Corporation meet

इंदौर: इंदौर नगर निगम के बजट सम्मेलन के दौरान कुछ लोगों की गफलत के कारण बुधवार को विवाद खड़ा हो गया, जब राष्ट्रगान “जन-गण-मन” का गायन बीच में रोककर अचानक राष्ट्रगीत “वंदे मातरम” गाना शुरू कर दिया.

इस वाकये का वीडियो बाहर आ गया जिसके एक दृश्य में महापौर और स्थानीय बीजेपी विधायक मालिनी लक्ष्मणसिंह गौड़ भी दिखायी दे रही हैं. इंदौर नगर निगम पर बीजेपी का कब्जा है.

चश्मदीद सूत्रों ने बताया कि नगर निगम के बजट सम्मेलन की शुरुआत के दौरान पार्षदों और अन्य लोगों ने राष्ट्रगान (जन-गण-मन) गाना शुरू कर दिया. वहां उपस्थित अन्य लोगों ने भी स्वर में स्वर मिलाया.

लेकिन गलती का अहसास होते ही कुछ ही सेकंड बाद “जन-गण-मन” को अधूरा छोड़ दिया गया और अचानक “वंदे मातरम” का गायन शुरू कर दिया गया. फिर इस राष्ट्रगीत को पूरा गाया गया.

विपक्षी पार्षदों ने नगर निगम के सम्मेलन में हुई चूक को राष्ट्रगान के अपमान का मामला करार देते हुए दोषी लोगों की पहचान कर उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की है.

इस बारे में पूछे जाने पर नगर निगम के सभापति अजय सिंह नरूका ने कहा, “यह चूक संभवतः किसी पार्षद की जुबान फिसलने से हुई. हालांकि, इस चूक के पीछे मुझे किसी की कोई दुर्भावना प्रतीत नहीं होती. लिहाजा इस मामले को बेवजह तूल नहीं दिया जाना चाहिये.”

उन्होंने कहा कि यह पुरानी परंपरा है कि नगर निगम के सत्र की शुरूआत में राष्ट्रगीत “वंदे मातरम” गाया जाता है, जबकि राष्ट्रगान “जन-गण-मन” के गायन के साथ सदन की कार्रवाई खत्म होती है.