प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी : मंत्रिमंडल के साथियों से अपील समय पर ऑफिस पहुंचे


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चाहते हैं कि मंत्रिमंडल के सभी साथी समय पर ऑफिस पहुंचे और दफ्तर में ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं. इसे लेकर उन्होंने मंत्रिमंडल के साथियों से अपील भी की है. उन्होंने कहा कि एक सांसद और मंत्री में ज्यादा अंतर नहीं है.

Image result for narendra modi

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को मंत्रिपरिषद के सदस्यों से समय पर दफ्तर पहुंचने की अपील की. उन्होंने कहा कि ऑफिस का काम घर से करने से बचें और लोगों के लिए उदाहरण पेश करें. बैठक के बाद सूत्रों ने बताया कि नयी सरकार के मंत्रिपरिषद की पहली बैठक में प्रधानमंत्री ने वरिष्ठ मंत्रियों से कहा कि वे नए मंत्रियों को साथ लेकर चलें. राज्य मंत्रियों को बड़ी भूमिका देने की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कैबिनेट मंत्रियों को उनके साथ महत्वपूर्ण फाइलें साझा करनी चाहिए. इससे उत्पादकता बढ़ेगी.

साथ काम निपटाने से होगा फायदा 

सूत्रों के अनुसार पीएम मोदी ने कहा कि फाइलों को तेजी से निपटाने के लिए कैबिनेट मंत्री और उनके सहायक मंत्री साथ बैठकर प्रस्तावों को मंजूरी दे सकते हैं. समय पर दफ्तर पहुंचने पर जोर देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सभी मंत्री वक्त पर दफ्तर पहुंचें और कुछ मिनट का वक्त निकालकर अधिकारियों के साथ मंत्रालय के कामकाज की जानकारी लें. उन्होंने कहा कि मंत्रियों को दफ्तर आना चाहिए और घर से काम करने से बचना चाहिए. साथ ही उन्हें पार्टी सांसदों और जनता से भी मिलते रहना चाहिए.

पंचवर्षीय योजना पर भी पीएम मोदी ने की बात

प्रधानमंत्री ने कहा कि वे लोग अपने-अपने राज्य के सांसदों के साथ मुलाकात के जरिए यह सिलसिला शुरू कर सकते हैं. उन्होंने इसपर भी जोर दिया कि एक मंत्री और सांसद में बहुत फर्क नहीं है. पीएम मोदी ने प्रत्येक मंत्रालय की पंचवर्षीय योजना पर भी बात की. बैठक के दौरान कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने सोमवार से शुरू हो रहे संसद सत्र के अधिकतम उपयोग पर प्रस्तुतिकरण दिया.

केंद्रीय बजट पर हुआ प्रजेंटेशन

तोमर पिछली सरकार में संसदीय कार्य मंत्री थे. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने केन्द्रीय बजट पर सलाह के लिए प्रजेंटेशन दिया. बजट पांच जुलाई को पेश होना है. सूत्रों ने बताया कि रेल मंत्री पीयूष गोयल ने केन्द्र सरकार के प्रत्येक मंत्रालय के लिए पंचवर्षीय दृष्टिपत्र पर प्रजेंटेशन दिया. पीएम मोदी की पिछली सरकार में भी मंत्रिपरिषद की बैठकें लगातार होती रहती थीं. वह सभी मंत्रियों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं और उनके बारे में जनता को जागरूक करने के तरीके समझाते थे.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap