नीति आयोग की बैठक में बना न्यू इंडिया का रोडमैप, 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी का लक्ष्य


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक शुरू हो गई है. नीति आयोग की पांचवी बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की अर्थव्यवस्था को 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर करने का लक्ष्य तय किया है. इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए उन्होंने राज्यों से सहयोग की अपील की है.

नीति आयोग की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-twitter/PIB_India)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक शुरू हो गई है. नीति आयोग की पांचवीं बैठक में प्रधानमंत्री  मोदी ने भारत की अर्थव्यवस्था को 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर करने का लक्ष्य तय किया है. उन्होंने कहा कि यह चुनौतीपूर्ण है, लेकिन इसे हासिल किया जा सकता है. पीएम मोदी ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र को पूरा करने में नीति आयोग की अहम भूमिका है. आय और रोजगार बढ़ाने के लिए निर्यात क्षेत्र महत्वपूर्ण है, राज्यों को निर्यात प्रोत्साहन पर ध्यान देना चाहिए.

नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की शुरुआती बैठक को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने साल 2024 तक देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर यानी कि 34,94,00,00 करोड़ रुपये तक करने का लक्ष्य रखा है. पीएम ने राज्य के मुख्यमंत्रियों को संबोधित करते हुए कहा कि ये लक्ष्य चुनौतीपूर्ण भले ही है, लेकिन इसे राज्य सरकारों की मेहनत से हासिल किया जा सकता है. पीएम ने कहा कि राज्यों को अपनी आर्थिक क्षमता पहचाननी होगी और जीडीपी टारगेट बढ़ाने पर जोर देना होगा, उन्होंने कहा कि इसके लिए जिला स्तर से काम करने की जरूरत है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास के मंत्र को लागू करने में नीति आयोग को अहम रोल अदा करना है. आय और रोजगार बढ़ाने के साधनों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि निर्यात क्षेत्र नौकरियां देने और कमाई बढ़ाने के लिए अहम है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अब हम उस गवर्नेंस सिस्टम की ओर जा रहे हैं जिसकी विशेषता परफॉर्मेंस, ट्रांसपेरेंसी और डिलीवरी है. पीएम मोदी ने कहा कि योजनाओं का धरातल पर सही रुप में उतरना जरूरी है. उन्होंने कहा कि वे गवर्निंग काउंसिल के सदस्यों से अपील करते हैं कि वे एक ऐसी सरकारी व्यवस्था तैयार करें जो काम करता हो और जिसे लोगों का विश्वास हासिल हो.

पीएम ने कहा कि इस बार गठित किया गया जल शक्ति मंत्रालय पानी के उतिक इस्तेमाल का व्यापक दृष्टिकोण विकसित करेगा. उन्होंने राज्यों से अपील की कि वे भी जल संरक्षण और जल प्रबंधन से जुड़ी कई कोशिशों को एक प्लेटफॉर्म पर ला सकते हैं. नरेंद्र मोदी ने कहा कि उपलब्ध पानी का संरक्षण बेहद जरूरी है. उन्होंने कहा कि सरकार का लक्ष्य है कि 2024 तक देश के हर ग्रामीण घर तक पाइप से पानी पहुंचाया जाए.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि नक्सल हिंसा के खिलाफ जंग निर्णायक पड़ाव पर पहुंच गया है. उन्होंने कहा कि हिंसा का जवाब कड़ाई से दिया जाएगा.  जिन राज्यों ने आयुष्मान भारत योजना को अबतक लागू नहीं किया है. पीएम नरेंद्र मोदी ने उनसे अपील की और कहा कि वे इस मसले पर जल्द से जल्द केंद्र सरकार के साथ आएं. उन्हें कहा कि स्वास्थ्य और जनकल्याण हर फैसले का केंद्र बिंदू होना चाहिए.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap