‘कठिन हिंदी शब्दों को ठीक से सुन नहीं पाए राहुल, इसलिए कर रहे थे बात’


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान फोन का इस्तेमाल और बात करते हुए देखा गया था. इस पर आनंद शर्मा ने कहा कि ये सभी गलत आरोप हैं, उन्होंने पूरा भाषण बड़े ही ध्यान से सुना.

संसद में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (फोटो: LSTV)

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित किया. राष्ट्रपति ने अपने संबोधन में मोदी सरकार 2.0 के एजेंडे को देश के सामने रखा. लेकिन कांग्रेस पार्टी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण को प्रेरित करने वाला नहीं बताया. हालांकि इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के मोबाइल फोन पर लगे रहने और बात करने के मुद्दे ने सोशल मीडिया पर बहस छेड़ दी. इस पर अब आनंद शर्मा ने सफाई दी है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान फोन का इस्तेमाल और बात करते हुए देखा गया था. इस पर आनंद शर्मा ने कहा कि ये सभी गलत आरोप हैं, उन्होंने पूरा भाषण बड़े ही ध्यान से सुना.

आनंद शर्मा ने कहा कि अभिभाषण में कुछ हिंदी के शब्द ऐसे थे, जिन्हें राहुल गांधी समझ नहीं पा रहे थे. इसलिए वह लगातार उन शब्दों के बारे में पूछ रहे थे. अभिभाषण के वक्त मैं उनके साथ ही था.यहां वीडियो में देखें आनंद शर्मा की प्रेस कॉन्फ्रेंस

गौरतलब है कि गुरुवार को राहुल गांधी को अभिभाषण के दौरान मोबाइल फोन का इस्तेमाल करते हुए देखा गया. जिस पर सोशल मीडिया पर उन्हें काफी ट्रोल किया जा रहा था.

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि भाषण में बेरोजगारी के मुद्दे पर कोई भी बात नहीं की गई है. आनंद शर्मा बोले कि देश में बेरोजगारी का आंकड़ा बढ़ रहा है. मोदी सरकार ने पिछले कार्यकाल में जो वादे किए थे उन्हें पूरा नहीं किया गया है. जिनका जिक्र राष्ट्रपति के अभिभाषण में नहीं किया गया है.

आपको बता दें कि राष्ट्रपति ने अपने करीब एक घंटे के भाषण में मोदी सरकार के एजेंडे को देश के सामने रखा. इस दौरान उन्होंने विकास, न्यू इंडिया, सरकार के कामकाज पर फोकस किया. राष्ट्रपति ने अपने भाषण में राफेल विमान का भी जिक्र किया था, जिस पर राहुल गांधी ने कहा था कि वह अपनी बात पर अडिग हैं, वह अब भी मानते हैं कि राफेल विमान सौदे में चोरी हुई थी.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap