पुणे में 15 मौतों के बाद मुआवजे का मरहम, जांच के लिए कमेटी भी गठित


महाराष्ट्र सरकार ने इस हादसे की जांच के लिए एक कमेटी गठित की है. ये कमेटी 7 दिन में रिपोर्ट देगी. पुणे सिटी के कमिश्नर सौरव राव ने कहा कि सीएम ने घटना पर गहरा दुख जताया है. उन्होंने कहा कि पांच सदस्यों की एक कमेटी इस घटना की जांच करेगी.

पुणे में एक सोसायटी की दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत (फोटो-आजतक)
पुणे में एक सोसायटी की दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत

महाराष्ट्र सरकार ने पुणे हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान किया है. महाराष्ट्र सरकार ने नेशनल डिजास्टर रिलीफ फंड के तहत प्रत्येक पीड़ित को 5 लाख रुपये देने की घोषणा की है. इसके अलावा सीएम रिलीफ फंड के तहत भी पीड़ितों को आर्थिक मदद दी जाएगी. महाराष्ट्र सरकार ने इस हादसे की जांच के लिए एक कमेटी गठित की है. ये कमेटी 7 दिन में रिपोर्ट देगी.

पुणे सिटी के कमिश्नर सौरव राव ने कहा कि सीएम ने घटना पर गहरा दुख जताया है. उन्होंने कहा कि पांच सदस्यों की एक कमेटी इस घटना की जांच करेगी, इसमें एडिशनल म्युनिसिपल कमिश्नर, पुणे इंजीनियरिंग कॉलेज के एक्सपर्ट, स्ट्रक्चरल ऑडिट एक्सपोर्ट, और दो लोग शामिल होंगे.

महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि पुणे के कोंडवा क्षेत्र में शनिवार को एक इमारत के बाउंड्री की दीवार गिरने से 15 लोगों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए. मरने वालों में 10 पुरुष और 5 महिलाएं हैं. मरने वालों में ज्यादातर लोग पश्चिम बंगाल और बिहार के थे और आसपास मजदूरी करते थे.

पुलिस और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के अधिकारियों ने कहा कि यह घटना शनिवार तड़के लगभग 2.15 बजे की है, जब एल्कॉन स्टायलस इमारत के हाते की दीवार अचानक गिर गई और झोपड़ियों में सो रहे पीड़ित उसकी चपेट में आ गए. घटना की सूचना मिलते ही रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंची लेकिन वे केवल तीन लोगों को ही बचा पाए.  रिपोर्ट के मुताबिक मलबे में फंसे दूसरे लोगों को निकालने के लिए बचाव कार्य जारी है.

पुणे की मेयर मुक्ता तिलक ने कहा कि इमारत में चल रहे निर्माण कार्य पर तुरंत रोक लगाने का आदेश जारी कर दिए गए हैं. मृतकों की पहचान सुनील सिंह, सोनाली दास, भीमा दास, दीपन शर्मा, आलोक वर्मा, मोहन शर्मा, संगीता देवी, अवदेश सिंह, अमन शर्मा, रवि शर्मा, अजीत शर्मा, राहुल शर्मा, लक्ष्मीकांत साहनी, ओवी दास के रूप में हुई है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap