फिल्म ‘स्पेशल-26’ की तर्ज पर बनाई फर्जी सीबीआई टीम, छापा मारने पहुंचे तो पकड़े गए


उत्तर प्रदेश के संभल से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां सीबीआई के फर्जी 16 अधिकारी पकड़े गए हैं. ये लोग स्पेशल 26 फिल्म की तर्ज पर टीम बनाकर छापा मारने पहुंचे थे.

fake cbi team arrested in sambhal uttar pradesh

संभल: फिल्म स्पेशल 26 की तर्ज पर गैंग बना कर उत्तर प्रदेश के संभल में एक शुगर मिल में जाँच करने पहुंचे 16 फर्जी सीबीआई अधिकारियों को शक होने पर मिल स्टाफ़ ने पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस पूछताछ में इन फर्जी सीबीआई वालों की सारी हेकड़ी निकल गयी और अपने पूरे गैंग का खुलासा कर दिया. मामला असमोली थाना इलाके का है.

मामला थाना असमोली के डीसीएम शुगर मिल का है जहां गुरुवार की शाम शुगर मिल के अध्यक्ष को सूचना मिली कि शुगर मिल में कुछ सीबीआई के लोग छापेमारी करने आए हैं. अध्यक्ष सूचना मिलते ही तुरंत शुगर मिल पहुंचे तो देखा कि शुगर मिल में चारों तरफ अफरा-तफरी मची हुई थी.

शुगर मिल के कुछ कर्मचारियों को सभी आरोपियों ने एक तरह से बंधक बना लिया था और जहां मन कर रहा था वहां छानबीन कर रहे थे और फोटोग्राफी कर रहे थे, इतना ही नहीं यह सभी लोग फोटोग्राफी करते करते शुगर मिल के ऐसे डिपार्टमेंट में चले गए जहां फोटोग्राफी ही करना वर्जित है.

जिसको लेकर शुगर मिल के अध्यक्ष ने उनसे कहा कि आप इस जगह पर फोटोग्राफी मत कीजिएगा यहां पर किसी तरह की घटना भी हो सकती है. और अगर आप सीबीआई या विजिलेंस के लोग हैं तो फिर आप एक सिस्टम के आधार पर अपना काम कीजिएगा. लेकिन उसके बावजूद भी आरोपी नहीं माने और अजीबो गरीब तरह की गतिविधियां करने लगे जिसको लेकर शुगर मिल के अध्यक्ष को मामला संदिग्ध लगा.

उसने तुरंत पुलिस को सूचना दी और शुगर मिल के किसानों और कर्मचारियों ने सभी आरोपियों को पकड़ लिया जिसके बाद सभी को पुलिस को सौंप दिया. पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि यह सभी आरोपियों ने एक फ़िल्म स्पेशल 26 की तर्ज पर एक स्क्रिप्ट तैयार की थी उसके बाद शुगर मिल में लोगों ने छापेमारी की और उनपर अनैतिक दबाव बनाने की कोशिश की जिसके बाद सूचना पुलिस को मिली तो पुलिस ने उनको गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस ने बताया कि इनका जो मुख्य आरोपी संजय है वह मुरादाबाद का रहने वाला है उसने कुछ समय पहले एक विज्ञापन देकर यूपी के कई जनपदों में सीबीआई को युवकों की जरूरत है इस विज्ञापन के ज़रिये कई लोगों ने उनसे संपर्क किया और फिर एक नये किस्म के क्राइम की शुरुआत की.

गुरुवार को अमरोहा से दो लग्जरी गाड़ियों में सवार होकर यह सभी लोग असमोली शुगर मिल पहुंच गए. जहां पकड़े जाने पर आरोपियों को यह भी लग रहा था कि उनको इस ट्रेनिंग पर लाया गया है क्योंकि मुख्य आरोपी ने उन सभी युवकों को बताया था कि तुम्हारी ट्रेनिंग होगी और उसके बाद सभी लोग शुगर मिल में पहुंच गए जहाँ ये पकड़े गये.

आरोपियों में अधिकतर युवक इंटर और ग्रेजुएशन पास किए हुए हैं. जबकि मुख्य आरोपी खुद को फार्मेसिस्ट बता रहा है इसमें एक आरोपी दिल्ली का रहने वाला भी है जो कि सीआईओ नामक एक संस्था को चलाता है. पुलिस ने सभी 16 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है और वो इस गिरोह के मुख्य आरोपी की तलाश कर रही है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap