अंबाती रायुडू ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास, वर्ल्ड कप में नहीं मिला था मौका

क्रिकेटर अंबाती रायुडू ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से रिटायर होने का फैसला लिया है.उन्होंने बीसीसीआई को इसके संबंध में मेल भेजा.

Image result for अंबाती रायुडू

नई दिल्ली:  विश्वकप 2019 के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने में नाकाम रहे मध्‍यक्रम के बल्‍लेबाज अंबाती रायुडू ने इंटरनेशनल क्रिकेट के सभी फॉर्मेटों से संन्‍यास लेने की घोषणा की है. बता दें कि रायडू वर्ल्‍डकप 2019 के लिए भारतीय टीम में चयन के दावेदार थे. उनके फॉर्म को देखते हुए लग रहा था कि उन्हें अंतिम 15 में शामिल किया जाएगा, लेकिन उनको शामिल नहीं किया गया.

इसके बाद जब विश्वकप के दौरान शिखर धवन और विजय शंकर चोटिल होकर बाहर हुए तो फिर उम्मीद जगी कि रायडु को मौका मिल सकता है लेकिन चयनकर्ताओं ने ऋषभ पंत और मयंक अग्रवाल जैसे युवा खिलाड़ि‍यों पर भरोसा करना उचित समझा. अब कहा जा रहा है कि इसी उपेक्षा से दुखी होकर उन्होंने संन्यास लिया है.

हालांकि उन्होंने अभी तक संन्यास का कारण नहीं बताया है. उन्होंने कहा है कि वह इंडियन प्रीमियर लीग में भी नहीं खेलेंगे लेकिन विदेशों में अन्य टी 20 लीग में खेलने के लिए तैयार हैं.

अंबाती रायुडू ने 50 एकदिवसीय पारियां खेली हैं. इसमें रायडू ने 47.05 की औसत से 1694 रन बनाए हैं. जिसमें 124 * का सर्वोच्च स्कोर है. उन्होंने तीन शतक और 10 अर्द्धशतक लगाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 79.04 है. उन्होंने जो पांच T20I पारी खेली हैं, उनमें उन्होंने 10.50 की औसत से 42 रन बनाए हैं.

अंबाती रायुडू ने भारत के लिए साल 2013 में जिम्बाबे के खिलाफ डेब्यू किया था. इस मैच में उन्होंने 84 गेंद पर 63 रन की पारी खेली. वहीं टी-20 में उन्होंने पहला मैच साल 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था.

 
hi_INHindi
hi_INHindi