सुषमा स्वराज ने निधन से 3 घंटे पहले किया था आखिरी ट्वीट, बयां किया आर्टिकल 370 का दुख:

भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेता और पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का मंगलवार की रात दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया.

सुषमा स्वराज की निधन की खबर आने से सभी हैरान हो गए. बताया जा रहा है कि सुषमा स्वराज को मंगलवार की रात करीब नौ बजे अचेत अवस्था में एम्स लाया गया था, जहां पांच डॉक्टरों की टीम ने उनका इलाज किया, लेकिन उन्हें बचा ना सके.

67 वर्षीय सुषमा स्वराज काफी लंबे समय से बीमार चल रही थीं. सुषमा स्वराज ने निधन से 3 घंटे पहले ट्वीट किया था. उन्होंने ये ट्वीट अनुच्छेद 370 और जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन बिल लोकसभा से पास होने के बाद किया. उन्होंने बिल पास होने के बाद प्रधानमंत्री मोदी को बधाई दी. सुषमा ने शाम करीब 7.32 बजे ट्वीट कर लिखा, “प्रधानमंत्री जी-आपका हार्दिक अभिनंदन. मैं जीवनभर इस दिन को देखने की प्रतीक्षा कर रही थी.”

सुषमा स्वराज की बीमार होने की खबरे सुनते ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन और एसएस अहलूवालिया उनसे मिलने एम्स पहुंचे. उनके निधन की खबर सुनने से बाद उन्हें देखने के लिए एम्स के बाहर केंद्रीय मंत्रियों और नेताओं का तांता लग गया.

प्रधानमंत्री मोदी ने सुषमा स्वराज के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट कर लिखा, “राजनीति के एक अध्याय का अंत हुआ है. सुषमा स्वराज जी अपनी तरह की अलग महिला थीं, जो करोड़ों लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत थीं.”

एक अन्य ट्विट में प्रधानमंत्री ने लिखा, “मैं यह नहीं भूल सकता कि किस तरह से सुषमा स्वराज ने बीते पांच वर्षों के बिना रूके बिना थके लगातार विदेश मंत्री रहते लोगों के लिए काम किया वो भी तब जब उनका स्वास्थय खराब था.उनके काम के प्रति उनके जुनून का कोई सानी नहीं है.”

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap