Navratri special 2019: जानें कब से शुरू हो रहे हैं शारदीय नवरात्रि, ऐसे करें मां दुर्गा को खुश


शारदीय नवरात्रि रविवार यानि 29 सितंबर से शुरु हो रहे हैं। नवरात्रि में दुर्गा मां की विशेष पूजा की जाती है।

हिंदू धर्म में सारे त्यौहार हिंदू नववर्ष के अनुसार मनाए जाते है। साल में नवरात्रि चार बार आते है लेकिन चैत्र नवरात्रि और शारदीय नवरात्रि का खास महत्व माना जाता है। नवरात्रियों में दुर्गा मां की विशेष पूजा की जाती है। नवरात्रि के 9 दिन दुर्गा मां के अलग-अलग रूप देखने को मिलते हैं। इस बार शारदीय नवरात्रि रविवार यानि 29 सितंबर से शुरु हो रहे हैं। नवरात्रि में पूजा के पहले दिन अखंड ज्योति भी जलाई जाती है और पहले दिन ही नारियल के साथ कलश स्थापना की जाती है।

ऐसे करें पूजा
नवरात्रि के दिन सुबह उठकर सन्ना करें और अपनी मंदिर को सजाए। उसके बाद माता को नए कपड़े अर्पित करें। माता की तस्वीर के आगे नारियल के कलश की स्थापना जरूर करें और गलती से भी नारियल में चुनरी बांधना न भूलें। उसके बाद माता की पूजा करें। आरती पढ़े और माता की अखण्ड ज्योति जलाए। अगर आपको आरती नहीं आती तो आप माता के भजन फोन में लगाकर भी सुन सकती है। बस आप शांत मन से माता की पूजा करें।

Image result for navratri images

बहुत से लोग मां दुर्गा को खुश करने के लिए पूरे 9 दिन व्रत करते हैं। माना जााता है जो भी मां दुर्गा का व्रत पूरी श्रद्धा से करता है मां उसकी सारी मनोकामनाएं पूरी कर देती हैं। नवरात्रि के व्रत के दौरान घर में मासाहारी भोजन नहीं बनाना चाहिए और घर में किसी को भी शराब आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। जो लोग माता के पूरे व्रत रखते है वो पूरे 9 दिन सिर्फ फलहार खाते है।

शारदीय नवरात्रि में कलश स्थापना के सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त

  • 29 सितंबर, रविवार आश्विन शुक्ल प्रतिपदा रात्रि 08 बजकर 10 मिनट तक नवरात्रि
  • ध्यान दें 07 बजकर 42 मिनट से पहले कलश स्थापना भूलकर भी न करें अन्यथा पारिवारिक कलह और धनहानि हो सकती है।
hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap