नवरात्रि के तीसरे दिन ऐसे करें मां चंद्रघंटा की पूजा, इन चीजों से लगाएं भोग


आज नवरात्रि का तीसरा दिन है, नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है।

हिंदू धर्म में नवरात्रियों का विशेष महत्व माना जाता है। नवरात्रि 29 सिंतबर से शुरु हो चुके हैं। आज नवरात्रि का तीसरा दिन है, नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है। नौ दिन मां दुर्गा के अलग-अलग रूप देखने को मिलते हैं। वैसे तो नवरात्रि साल में चार बार आते है लेकिन चैत्र नवरात्रि और शारीदय नवरात्रि का खास महत्व माना जाता है।

माना जाता है नवरात्रियों में जो भी सच्चे मन से पूजा करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है। देवी चंद्रघंटा के सिर पर घंटे के आकार का अर्धचंद्र नजर आता है इसलिए उन्हें चंद्रघंटा कहकर बुलाया जाता है।

Image result for chandraghanta images

देवी चंद्रघंटा का वाहन सिंह होता है। मां की 10 भुजाएं, 3 आंखें, 8 हाथों में खड्ग, बाण आदि अस्त्र-शस्त्र हैं। इसके अलावा देवी मां अपने दो हाथों से अपने भक्तों को आशीष देती हैं। माना जाता है जिन लोगों को ज्यादा डर लगता है उन लोगों को माता की पूजा करनी चाहिए उससे उनके मन का डर दूर होता है।

Image result for chandraghanta images

चंद्रघंटा माता को दूध से बनी चीजों का भोग लगाना चाहिए। माता को लाल चीजों से ज्यादा लगाव है इसलिए उन्हें लाल फूल और लाल सेब अर्पित करें।

इन मंत्रों का करें जाप

पिण्डजप्रवरारूढ़ा चण्डकोपास्त्रकेर्युता।
प्रसादं तनुते मह्यं चंद्रघण्टेति विश्रुता॥

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap