पेट के दर्द से परेशान होकर दो युवक पहुंचे अस्पताल, डॉक्टर ने लिख दिया प्रेग्नेंसी टेस्ट


कुछ डॉक्टर ऑपरेशन में भी लापरवाही कर देते है कभी मरीज के पेट में कैची रह जाती है तो कभी ब्लेड और वहीं कुछ डॉक्टर दवाई देने में भी कभी-कभी ऐसा कर देते है।

कुछ डॉक्टर ऑपरेशन में भी लापरवाही कर देते है कभी मरीज के पेट में कैची रह जाती है तो कभी ब्लेड और वहीं कुछ डॉक्टर दवाई देने में भी कभी-कभी ऐसा कर देते है। अक्सर ऐसी कई घटनाएं सुनने को मिलती रहती हैं। लेकिन क्या आपने कभी ऐसा सुना कि किसी डॉक्टर ने एक युवक को ऐसा कहा हो जाओ अपना प्रेग्नेंसी टेस्ट करवाओ नहीं न, लेकिन ऐसा हुआ है झारखंड के चतरा जिले के सिमरिया से हैरान कर देने वाली घटना सामने आई, यहां एक डॉक्टर ने दो युवकों के पेट में दर्द होने पर उन्हें ANC टेस्ट कराने का आदेश दे दिया।

बता दें, झारखंड के एक गांव में दो युवकों के पेट में दर्द हुआ। यह देख उनके घरवाले उन्हें सरकारी अस्पताल में ले गए जहां डॉक्टर ने चेकअप करके उन्हें पर्चे पर कुछ टेस्ट लिख दिए। दोनों युवकों की पहचान गोपाल गंझू औऱ सुधु गंझू के रूप में हुई है।

Image result for anc test

ये दोनों मरीज डॉक्टर मुकेश के लिखे गए टेस्ट को कराने के लिए जब पैथलॉजी पहुंचे तो वहां का डॉक्टर यह देखकर हैरान रह गया कि इन्हें गर्भवती महिलाओं वाले टेस्ट क्यों लिखकर दिए है। पैथलॉजी के डॉक्टर ने पर्ची पर लिखे सभी टेस्ट कर दिए लेकिन डॉक्टर ने ANC (गर्भवती महिलाओं की जांच) वाला टेस्ट करने से इनकार कर दिया।

इसके बाद दोनों मुंह लटकाकर घर लौट गए। ये खबर पूरे गांव में फैल गई। खबर पूरे गांव में फैलने के बाद डॉक्टर मुकेश ने इन आरोपों को झूठा बताया उन्होंने कहा मैंने ऐसा कोई टेस्ट नहीं लिखा मुझे बदनाम किया जा रहा है। पर्चे पर ऐसे खुद लिखा गया होगा। इस मामले को लेकर अस्तपताल के सीएस डॉ अरुण कुमार ने बताया कि उन्हें मामले की कोई जानकारी नहीं है अगर ऐसे सच में हुआ है तो इस मामले की जांच कर इस पर कार्रवाई जरूर करवाई जाएगी।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap