दर्द होने पर गाय अपने ही पेट में मारती थी लात, ऑपरेशन करने पर निकला 52 किलो प्लास्टिक


देश में प्लास्टिक बैन की जा रही है। लेकिन कुछ लोग अभी भी प्लास्टिक का इस्तेमाल कर रोड पर फेंक देते हैं, जिससे सड़क पर बैठे जानवर उन्हें खा लेते है और मौत का शिकार हो जाते हैं।

देश में प्लास्टिक बैन की जा रही है। लेकिन कुछ लोग अभी भी प्लास्टिक का इस्तेमाल कर रोड पर फेंक देते हैं, जिससे सड़क पर बैठे जानवर उन्हें खा लेते है और मौत का शिकार हो जाते हैं। इसी तरह का एक मामला चैन्नई के तिरुमुल्लाइल से सामने आया है, यहां एक गाय के पेट का ऑपरेशन करने पर करीबन 52 किलो प्लास्टिक निकाली गई है। ये गाय पेट दर्द होने पर अपने ही पेट में लात मारती थी।

दरअसल, एक शख्स की गाय पेट दर्द होने पर अपने ही पेट में लात मारती थी। यह देख परेशान होकर मालिक उसे पशु चिकित्सा लेकर गया। इतना ही नहीं पेट में जमी प्लास्टिक की वजह से गाय को पेशाब और गोबर करने में भी बहुत तकलीफ होती थी।

ऑपरेशन कर गाय के पेट से निकाला इतना प्लास्टिक कि दंग रह गए डॉक्टर

पेट में 52 किलो प्लास्टिक होने की वजह से उसके दूध उत्पादन की क्षमता भी घट गई थी। गाय ने एक बछड़े को भी जन्म दिया था। गाय का ऑपरेशन करने में डॉक्टर्स को काफी समय लगा।

यह ऑपरेशन सुबह 11 बजे से लेकर शाम साढ़े 4 बजे खत्म हुआ। ये ऑपरेशन चेन्नई स्थित वेटरनरी एनिमल साइंस यूनिवर्सिटी में हुआ। इस ऑपरेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन के स्टूडेंट्स ने भी मदद करवाई। ये सरकारी ऑपरेशन था इसलिए सिर्फ इसमें 140 रुपए का खर्चा आया।

Image result for cow

वहीं अगर ये प्राइवेट में होता तो करीब 35 हजार रुपए का खर्चा होता। गाय की हालत अब सही बताई जा रही है। गाय अब खतरे के बाहर है और जल्द ही स्वस्थ हो जाएगी।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap