कमलेश तिवारी की पोस्टमोर्टम रिपोर्ट आ गयी है


कमलेश तिवारी की डेडबॉडी का पोस्टमोर्टम रिपोर्ट आ गयी है।हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की हत्या 18 अक्टूबर को हो गयी थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, चाकू के हमलों से कमलेश तिवारी के सीने में तीन से चार सेंटीमीटर का सुराख हो गया था। इसके साथ ही कमलेश के शव के पोस्टमार्टम के दौरान दो जगह चाकू से रेते जाने के निशान मिले हैं। इनमें से एक निशान उनकी गर्दन को रेतने का है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक कमलेश के निम्न हिस्सों में चाकू से वार किये गए थे-

-ठुड्डी से 6 सेमी. नीचे गले पर
-गले पर सामने की ओर से भी गहरा घाव
-सीने पर दाहिनी तरफ दो घाव
-सीने के बाएं हिस्से पर सात घाव
-बाएं कंधे पर
-बाएं कंधे से पीठ की तरफ
-पीठ पर बायीं तरफ
-सीधे कंधे पर.

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देखकर साफ़ होता है कि सीने और जबड़े के हिस्से को चाकू से गोदने के बाद कमलेश तिवारी का गला रेता गया। कमलेश तिवारी को एक गोली मारी गयी थी। और 0.32 बोर की गोली उनके सिर के पिछले हिस्से में फंसी हुई मिली थी।

दोनों हत्यारों ने कबूला गुनाह
गुजरात एटीएस के डीआईजी हिमांशु शुक्ला ने बताया कि दोनों आरोपियों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया है। इस गिरफ्तारी की सूचना यूपी के डीजीपी को दे दी गई है। इन दोनों ने 18 अक्तूबर को लखनऊ के खुर्शेदबाग में कमलेश तिवारी की घर में घुसकर हत्या कर दी थी। दोनों भगवा वेश में वारदात करने पहुंचे थे। हत्या के बाद होटल खालसा इन में इन लोगों ने कपड़े बदले थे और फिर ट्रेन से बरेली भाग गए थे।तीन साजिशकर्ता पहले ही गिरफ्तार थे जिन्हे क़त्ल के दूसरे दिन ही पकड़ लिया गया था |

यूपी पुलिस के अनुसार इस घटना के मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।वहीं कमलेश तिवारी की मां कुसुम तिवारी ने यूपी पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं। कहा है कि अगर यूपी पुलिस त्वरित कार्रवाई करती, तो कथित हत्यारों को पकड़ने में इतनी देर न लगती।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap