महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर घमासान जारी, किसान ने गवर्नर को चिट्टी लिख सीएम बनने का रखा प्रस्ताव


महाराष्ट्र में वोटों की गिनती को आठ दिन हो गए है, लेकिन अब तक किसी की भी सरकार नहीं बन पाई है। सत्ता के दो संभावित साझेदारों बीजेपी और शिवसेना दोनों मे से एक कदम आगे बढ़ता कि दो कदम पीछे हटने लगते हैं।

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर मचा हुआ घमासान अभी भी जारी है। वहां अभी भी नेताओं के बीच बहस जारी है। इसी बीच एक किसान ने एक पत्र लिखकर सबको हैरान कर दिया है। इस किसान ने राज्यपाल को खत लिखकर खुद को मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव रखा हैं।

किसान का कहना है कि जबतक नेताओं के बीच घमासान खत्म नहीं होता तब तक उसे सीएम का पद दे दिया जाए। बीड जिले के किसान श्रीकांत वी गदले ने राज्यपाल को खत में लिखा, जब तक सीएम पद का विवाद नहीं सुलझाया जाता, तब तक मुझे सीएम बनाया जाना चाहिए। भारी बारिश की वजह से वहां काफी किसानों की फसल बर्बाद हो गई है। किसानों के लिए यह कठिन समय है। राज्य में जल्द से जल्द सरकार की जरूरत है।

महाराष्ट्र में वोटों की गिनती को आठ दिन हो गए है, लेकिन अब तक किसी की भी सरकार नहीं बन पाई है। सत्ता के दो संभावित साझेदारों बीजेपी और शिवसेना दोनों मे से एक कदम आगे बढ़ता कि दो कदम पीछे हटने लगते हैं। बता दें कि गुरुवार की शाम शिवसेना विधायक दल की बैठक मे उद्धव ठाकरे ने ये साफ कर दिया है कि अभी बेजीपी ले बातचीत फाइनल नही हुई है। जो तय हुआ था उससे कम या ज्यादा कुछ नहीं चाहिए, अगर फड़णवीस सच बोल रहे हैं तो क्या मैं झूठ बोल रहा हूं।

सुत्रों के मुताबिक बीजेपी 50-50 के फोर्मूले पर कतई राजी नही है। ढ़ाई- ढ़ाई साल के लिए दोनों पार्टी से सीएम बनने के प्रस्ताव को बीजेपी ने खारिज कर दिया हैं। साथ ही बीजेपी पसंद का मंत्रायल भी देने को तैयार नही है। बीजेपी राजी हुई है तो सिर्फ डीप्टी सीएम के पद के लिए। लेकिन अब ये सवाल उठ रहा है कि शिवसेना डीप्टी सीएम के पद के लिए क्या राय रखती है। गुरुवार को शिवसेना ने एकनाथ शिंदे को विधायक दल का नेता चुना है।

सम्पादक : केहकशा

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap