दुनियाभर में मशहूर भेड़ की हुई मौत, इस कारण दर्ज था गिनीज बुक में नाम


क्रिस की मौत पर उसका संरक्षण करने वाली संस्था के द्वारा जारी बयान में कहा गया कि वह स्टाफ के लिए महज एक भेड़ से बहुत अधिक था। चार वर्षों से उसकी नियमित देखभाल हो रही थी और हमने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन हम उसे खो देंगे।

आपने ऐसे कई रिकॉर्ड्स के बारे में सुना होगा, जिनको बनाने पर तमाम लोगों ने अपना नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज कराया है। गिनीज बुक में अपना नाम दर्ज कराने के मामले में लोग सारी हदें पार कर देते हैं, कई लोगों के लिए तो यह एक जुनून की तरह बन जाता है, लेकिन मजे की बात यह है कि इस बुक में इंसानों द्वारा बनाए गए कीर्तिमानों के साथ-साथ उन कीर्तिमानों का भी जिक्र होता है जिसे किसी जानवर ने बनाया हो।
आज की कहानी भी ऐसे ही एक जानवर के बारे में है। हम बात कर रहे हैं 41 किलो ऊन देने वाली भेड़ की, जिसका नाम क्रिस था। क्रिस ने 2015 में सबसे ज्यादा ऊन देने का रिकॉर्ड बनाया था और इसीलिए क्रिस का नाम गिनीज बुक में भी दर्ज है। अभी तक क्रिस के द्वारा बनाए रिकॉर्ड को कोई और भेड़ तोड़ नहीं पाया है।
दुख की बात यह है कि ऑस्ट्रेलिया में 41 किलो ऊन देने वाली मशहूर भेड़ क्रिस की मौत हो गई है। क्रिस के शरीर के बालों से 41 किलो ऊन निकाला गया था। दरअसल, अत्यधिक वजन होने के कारण क्रिस की जान को खतरा पैदा हो गया था, जिसके बाद उसके बालों की कटाई की गई थी और इससे निकलने वाले ऊन ने ही वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था।
जैसे ही इस घटना की खबर फेसबुक पर शेयर की गई दुनिया भर से लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया देनी शुरू कर दी। क्रिस की देखभाल करने वाली संस्था साउथ वेल्स फर्म ने क्रिस की मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि अधिक उम्र होने के कारण क्रिस की मौत हो गई। लिटिल ओक सेंचुरी द्वारा जारी बयान में कहा गया, ‘प्यारा, बुद्धिमान और दोस्ती से भरपूर इस आत्मा की विदाई से हम सब बहुत दुखी हैं।’
क्रिस मरीनो प्रजाति का भेड़ था और इस प्रजाति के भेड़ों की उम्र अमूमन 10 वर्ष होती है। क्रिस की उम्र भी 10 साल के करीब थी। क्रिस की मौत पर उसका संरक्षण करने वाली संस्था के द्वारा जारी बयान में कहा गया कि वह स्टाफ के लिए महज एक भेड़ से बहुत अधिक था। चार वर्षों से उसकी नियमित देखभाल हो रही थी और हमने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन हम उसे खो देंगे। वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के बाद बहुत लोगों ने क्रिस को गोद लेने की इच्छा भी जाहिर की थी। क्रिस तो चला गया लेकिन उसका नाम अभी तक गिनीज बुक मे दर्ज है

संपादक : भावना चौहान

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap