डॉक्टर ने बच्चों को दी गलत दवाई, खराब हुए प्राइवेट पार्ट


उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले मेंं एक डॉक्टर की वजह से एक बच्चे की जिंदगी बर्बाद हो गई। यहां डॉक्टर ने बुखार से पीड़ित बच्चे को गलत दवा दे दी, जिससे उसका प्राइवेट पार्ट खराब हो गया।

लखनऊः डॉक्टर को भगवान का रूप कहा जाता है, लेकिन एक डॉक्टर ही जब यमराज बन जाए तो मौत भी करीब आ ही जाती है। इसी से जुड़ा एक मामला उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले से सामने आया है, यहां एक डॉक्टर की वजह से एक बच्चे की जिंदगी बर्बाद हो गई। यहां डॉक्टर ने बुखार से पीड़ित बच्चे को गलत दवा दे दी, जिससे उसका प्राइवेट पार्ट खराब हो गया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

हैरान कर देने वाली ये घटना मरेठ के मशहूर अस्पताल की है। ये कारनामा यहां इलाज करने वाले डॉक्टर विनोद आहूजा का है। परिवारों वालो ने बताया कि उनका बच्चा बुखार से पीड़ित था उसके चेहरे पर सूजन भी थी। उसे जब इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया तो उसकी हालत और खराब हो गई।

परिवार वालों का आरोप है कि इलाज के दौरान बच्चे को गलत दवाई दी गई थी जिस्से बच्चे की हालत बिगड़ गई। इतना ही नहीं गलत दवाई के कारण बच्चे के प्राइवेट पार्ट भी खराब हो गए। बच्चा सही होने की बजाय और बीमार हो गया। परिवार वालों ने बताया कि डॉक्टर ने इलाज की मोटी रकम भी ली है।

इतना ही नहीं जब परिजनों ने इसका विरोध किया तो अस्पताल वालों ने उन्हें धक्के मारकर बाहर कर दिया। फिलहाल, पीड़ित बच्चे का इलाज दूसरे अस्पताल में चल रहा है। परिजनों ने अस्तपाल और डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। परिजनों की शिकायत के बाद अस्पताल वालों ने चुप्पी साधी हुई है। इस बारे में एडिशनल सीएमओ डॉ एस एस चौधरी का कहना है कि मामले की गहराई से जांच की जाएगी। जांच करने के बाद इस मामले पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

संपादकः प्रीति पाल

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap