अयोध्या फैसले पर PM की पहली प्रतिक्रिया, बोले- ‘SC के फैसले को किसी की हार या जीत के रूप में न देखा जाए’


सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राम मंदिर के मुद्दे को लेकर पीएम मोदी की पहली प्रतिक्रिया सामने आ गई है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राम मंदिर के मुद्दे को लेकर पीएम मोदी की पहली प्रतिक्रिया सामने आ गई है। पीएम मोदी ने ट्वीट के जरिए कहा कि ‘न्याय के मंदिर ने दशकों पुराने मामले का सौहार्दपूर्ण तरीसे से समाधान किया है।

इतना ही नहीं पीएम मोदी ने ट्वीट के जरिए लोगों से शांति, सदभाव और एकता बनाए रखने की अपील की है और कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले को किसी की हार या जीत के रूप में न देखा जाए।

इतना ही नहीं उन्होंने अपने ट्विट में ये भी लिखा कि ‘देश के सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या पर अपना फैसला सुना दिया है। इस फैसले को किसी की हार या जीत के रूप में न देखा जाए। रामभक्ति हो या रहीमभक्ति, ये समझ हम सभी के लिए भारतभक्ति की भावना को सशक्त करने का है। देशवासियों से मेरी अपील है कि शांति, सद्भाव और एकता बनाए रखें।’

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला कई वजहों से महत्वपूर्ण है: यह बताता है कि किसी विवाद को सुलझाने में कानूनी प्रक्रिया का पालन कितना अहम है। हर पक्ष को अपनी-अपनी दलील रखने के लिए पर्याप्त समय और अवसर दिया गया।’

न्याय के मंदिर ने दशकों पुराने मामले का सौहार्दपूर्ण तरीके से समाधान कर दिया। उन्होंने अपने तीसरे ट्वीट में लिखा, ‘यह फैसला न्यायिक प्रक्रियाओं में जन सामान्य के विश्वास को और मजबूत करेगा। हमारे देश की हजारों साल पुरानी भाईचारे की भावना के अनुरूप हम 130 करोड़ भारतीयों को शांति और संयम का परिचय देना है। भारत के शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व की अंतर्निहित भावना का परिचय देना है।’

संपादकः प्रीति पाल

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap