अयोध्या विवादः सुप्रीम कोर्ट का फैसला, विवादित जमीन पर बनेगा राम मंदिर


अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में फैसला आ गया है। देश के सभी लोगों की नजरें सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट पर टिकी हुई थी।

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट में फैसला आ गया है। देश के सभी लोगों की नजरें सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट पर टिकी हुई थी। पांच जजों की पीठ ने फैसले में विवादित जमीन रामजन्मभूमि न्यास को देने का फैसला किया है। पांच जजों की पीठ ने मुस्लिम पक्ष को अयोध्या के अलग स्थान पर जगह देने के लिए कहा गया है। जजों ने सुन्नी वफ्फ बोर्ड को अलग जमीन देने का आदेश कोर्ट ने दिया है। अदालत ने मुस्लिम पक्ष को 5 एकड़ जमीन देने का फैसला किया है।

सभी जजों ने यह फैसला सर्वसम्मति से दिया है। सुप्रीम कोर्ट का आदेश 3 महीनों में केद्र सरकार करेगी ट्रस्ट का गठन। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ हो गया है। अयोध्या में लोग राम मंदिर के निर्माण के फैसले को लेकर जय श्रीराम के नारे लगा रहे हैं। रामजन्म भूमि को लेकर अयोध्या में चारों ओर खुशी का माहौल है।

इस ऐताहिसक फैसले को लेकर पूरे यूपी में धारा 144 लागू की गई है। राम मंदिर-बाबारी मस्जिद के फैसले को लेकर अयोध्या के चप्पे-चप्पे में सुरक्षाबल तैनात हैं। फैसले से पहले कई नेताओंन ने शांति बनाए रखने की अपली की थी। इतना ही नहीं पीएम मोदी ने ट्वीट कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। सुप्रीम कोर्ट ने निर्मोही अखाड़े का दावा खारिज कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि अखाड़े का दावा लिमिटेशन से बाहर है।

इतना ही नहीं चीफ जस्टिस ने ये भी कहा कि 1949 में मूर्तियां रखी गई। अदालत का ये भी कहना है कि मुस्लिम पक्ष का जमीन पर विशेष कब्जा नहीं था। अदालत का कहना है कि हिंदू सीता रसोई में पूजा किया करते थे।

अयोध्या केस पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। वहीं नोएडा में पुलिस धार्मिक स्थलों की चेकिंग कर रही है।

इतना ही नहीं वहीं अजमेर दरगाह दीवान जैनुल ओबेदीन चिश्ती ने अपील की है जिस पक्ष के के हक में फैसला आए वो खुशी न मनाए और जिसके खिलाफ फैसला आए वो निराश नहीं हो। अयोध्या फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। पूरे इलाके में धारा 144 लागू है।

संपादकः प्रीति पाल

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap