सरकार बनाने की जंग में टूटा बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन! अरविंद सावंत ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा


महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच सरकार बनाने को लेकर घमासमान जारी है। दोनों पार्टियों का गठबंधन टूटने की कगार पर है।

महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच सरकार बनाने को लेकर घमासमान जारी है। दोनों पार्टियों का गठबंधन टूटने की कगार पर है। दोनों ही पार्टियों के बीच सरकार बनाने को लेकर जंग जारी है। दोनों पार्टियों के बीच मुख्यमंत्री पद पर सहमति नहीं बन रही है, इसी बीच दोनों पार्टियों के रास्ते अलग-अलग हो गए है।

खबरें आ रही है कि शिवसेना बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़ना चाहती है। इतना ही नहीं शिवसेना कोटे से मोदी सरकार में मंत्री अरविंद सावंत ने इस्तीफा देने की घोषणा भी कर दी है। शिवसेना एनसीपी की शर्तों को मानते हुए बीजेपी के साथ अपना गठबंधन तोड़ना चाहती है।

बता दें, अरविंद सावंत ने इस्तीफा देते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले 50-50 फॉर्मूले की बात हुई थी लेकिन बाद में बीजेपी ने इससे इनकार कर दिया। अब इस फॉर्मूले को नकारना शिवसेना के लिए गंभीर खतरा है। इतना ही नहीं उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी ने झूठ का माहौल बना रखा है। शिवसेना हमेशा सच्चाई के पक्ष में रही है। ऐसे में दिल्ली सरकार में क्यों रहें? और इसलिए मैं केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा दे रहा हूं। इस्तीफा देने की बाद अरविंद सावंत ने ट्वीट के जरिए दी।

शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने ट्वीट के जरिए इस्तीफे देने का ऐलान किया। उन्होंने 11 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि मैं मंत्री पद से इस्तीफा दे रहा हूं और आज सुबह 11 बजे मीडिया के सामने अपना पक्ष रखूंगा। बता दें, महाराष्ट्र के राज्यपाल ने बीते दिन शिवसेना को न्यौता देते हुए पूछा कि वह सरकार बनाना चाहती है और उसके पास राज्य में अगली सरकार बनाने की क्षमता है।

इससे पहले बीजेपी सरकार ने शिवेसना के साथ सरकार बनाने से इनकार कर दिया था। लेकिन इसके बाद राज्यपाल ने शिवसेना को सरकार बनाने का ऑफर दिया। बीजेपी नवनिर्वाचित विधानसभा में 105 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है। वहीं शिवेसना बीजेपी के बाद महाराष्ट्र में सबसे बड़ी पार्टी है।

बता दें, शिवसेना सरकार बनाने के लिए कांग्रेस और एनसीपी का समर्थन भी ले सकती है। एनसीपी और कांग्रेस ने शिवसेना से शर्त रखी है कि अगर शिवेसेना के केंद्रीय मंत्री अरविंद सावंत इस्तीफा दे दें तो वो उनके समर्थन में आ जाएंगी।

संपादकः प्रीति पाल

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap