कांग्रेस सर्कार ने बदली थी बाल दिवस मानाने की तारीख,पहले इस टाइम पर मनाया जाता था


पूरी दुनिया में साल 1925 से बाल दिवस मनाया जाना शुरु हुआ था. साल 1953 में इसे दुनिया भर में मान्यता दी गई.

14 नवंबर को देशभर में बाल दिवस पूरे उल्लास से मनाया जाता है. 14 नवंबर देश के पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू का जन्मदिन है. क्या आप जानते हैं बाल दिवस पहले 20 नवंबर को मनाया जाता था, जो कांग्रेस सरकार ने बदलकर प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिवस पर यानि 14 नवंबर को कर दिया.

पूरी दुनिया में साल 1925 से बाल दिवस मनाया जाना शुरु हुआ था. साल 1953 में इसे दुनिया भर में मान्यता दी गई. संयुक्त राष्ट्र संघ ने 20 नवबंर को ही दुनिया भर में बाल दिवस के रूप में मनाए जाने की घोषणा की, हालांकि कई अन्य देश समय-समय पर इसे अलग-अलग दिन मनाने लगे.

यहां तक कि भारत में भी बाल दिवस पहले 20 नवंबर को ही मनाया जाता था, लेकिन साल 1964 में जब प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का निधन हुआ तो सर्वसहमति के बाद यह फैसला लिया गया कि जवाहरलाल नेहरू के जन्मदिन को ही बाल दिवस के तौर पर मनाया जाएगा. दरअसल, प्रधानमत्री नेहरू ने आजादी के बाद बच्चों की शिक्षा, प्रगति और कल्याण के लिए काफी काम किया था.

जवाहर लाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर सन् 1889 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में हुआ था. उन्हें बच्चों के प्रति बहुत लगाव था. नेहरू का कहना था कि आज के बच्चे कल के भारत का निर्माण करेंगे. उनका कहना था कि हम उनका किस तरह पालन पोषण करते हैं यह देश के भविष्य के बारे में बताता है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap