दिल्ली में फेक कॉल सेण्टर के नाम पर चल रहा था धोकाधड़ी का काम, 32 लोग हुए गिरफ्तार


दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को फर्जी अंतर्राष्ट्रीय कॉल सेंटर का भंडाफोड़ कर 32 लोगों को गिरफ्तार किया. पुलिस ने इस बात की जानकारी दी. पुलिस ने एक विज्ञप्ति में कहा, “पश्चिमी दिल्ली के साइबर सेल ने दिल्ली के मोतीनगर-कीर्तिनगर स्थित डीएलएफ इंड्रस्ट्रीयल एरिया में चल रहे फर्जी इंटरनेशनल कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है.

यह कॉल सेंटर कनाडा के नागरिकों को लक्षित कर उन्हें धोखाधड़ी का शिकार बनाता था.” पुलिस ने कहा कि पश्चिम जिले के साइबर सेल को गुप्त सूचना मिली थी कि पिछले कुछ दिनों से संगठित तरीके से कुछ लोग अंतर्राष्ट्रीय ऑनलाइन धोखाधड़ी के रैकेट को चला रहे हैं.

पुलिस ने कहा कि वे लोग गैरमौजूद सामाजिक बीमा संख्या (एसआईएन) के उल्लंघन से बचाने के झूठे वादे कर विदेश (कनाडा) में रह रहे लोगों को धोखा दे रहे थे. एसआईएन घोटाले के शिकार हुए एक कनाडाई नागरिक ने धोखाधड़ी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. कॉल सेंटर के माध्यम से उसे 13,500 डॉलर का चूना लगाया गया.

पुलिस ने कुल 32 आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया और उनके कंप्यूटर और अन्य उपकरणों को जब्त कर लिया. आरोपियों के पास से 55 कंप्यूटर, 3 इंटरनेट डिस्ट्रीब्यूशन स्विच, 3 पैच पोर्ट, 2 इंटरनेट राउटर, 35 मोबाइल फोन, धोखा देने के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले स्क्रिप्ट पेज और अवैध सॉफ्टवेयर्स को जब्त किया है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap