पहाड़ी राज्यों में ज्यादा बर्फबारी होने से रास्तों को सफर हुआ मुश्किल भरा


गर्मी हो या सर्दियों का मौसम लेकिन, बर्फबारी का आंनद उठाने पहाड़ियों पर पहुंच ही जाते हैं. इस बार भी मैदानी इलाकों के पर्यटकों को बर्फबारी की खबर मिलते ही आनंद लेने पहुंच गए. लेकिन इस बार जाना बहुत ही मुश्किल भरा होगा, क्योंकि पहाड़ी राज्यों में बर्फ पड़नी शुरू हो गई है. ज्यादा बर्फ गिरने से पहाड़ी लोगों के लिए मुसीबत बन गई है और धूप खिलने के बाद बर्फ जमकर ठोस हो गई है. जिसके चलते रास्ते पूरी तरह बंद पड़ गए हैं. आपको बता दें कि, हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में सड़कों पर जमी बर्फ की मोटी चादर पड़ने से हटाने में बहुत मुश्किल आ रही है. वहीं बर्फ को हटाकर रास्ता बनाने के लिए भारी भरकम मशीनों का सहारा लिया जा रहा है.

बदरीनाथ का नजारा है अद्भुत

वहीं दूसरी तरफ उत्तराखंड में भी ज़ोरदार की बर्फबारी हो रही है. लेकिन इस बर्फबारी को देखने का नजारा अलग ही होता है. बर्फबारी का नजारा आप उत्तराखंड में हर जगह देख सकते हो, जी हां ऐसा ही प्रसिद्ध चार धामों में एक बदरीनाथ धाम में कई दिनों से जारी बर्फबारी के बाद अद्भुत नजारा सामने आया है. पूरा मंदिर बर्फ से पट गया है और जब धूप की किरणें बर्फ पर पड़ती है तो मंदिर के ऊपर जमी बर्फ चांदी की परत से कम नहीं चमकती है.

रिसॉर्ट्स की बुकिंग कराकर लीजिए बर्फबारी का आनंद

फिलहाल, मैदानी इलाकों के पर्यटकों को बर्फबारी की खबर मिलते ही उन्होंने बर्फीले नजारे का आनंद लेने के लिए मनाली के रिसॉर्ट्स में बुकिंग करानी शुरू कर दी है. बर्फबारी से सोलांग स्की ढलान ने बर्फ की चादर ओढ़ ली है. वहीं शिमला जिले के पर्यटन स्थल कुफरी और नरकंडा में हल्की बर्फबारी हुई है, जिसका पर्यटक आनंद ले रहे हैं.

किन क्षेत्रों में हुई बर्फबारी

ऊंचाई पर बसे किन्नौर, लाहौल और स्पीति, शिमला, कुल्लू, सिरमौर और चंबा जिलों में बीते कुछ दिनों से बर्फबारी हो रही है. ज्यादा बर्फबारी होने से लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो गया है. इन इलाकों में हड्डियों को कंपा देने वाली ठंड भी काफी ज्यादा बढ़ गई है. आगे भी मौसम ऐसे ही रहने की संभावना है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap