सार्वजनिक स्थानों पर न करें अपना फोन चार्ज, हो सकता है हैकर्स का शिकार


जो लोग चेतावानियों को अनदेखा कर देते हैं. वो ही लोग धोखा खा बैठते है. इसलिए हर जगह पर अपनी सावधानी जरूर बरतें. ऐसी ही सावधानी अपना स्मार्टफोन चार्ज करते समय बरतनी चाहिए, यानि कि जब आप कहीं सार्वजनिक जगह पर फोन चार्ज के लिए लगाते हैं. ऐसी जगह पर सावधानी बरतनें के चांस ज्यादा बढ़ जाते हैं.

एसबीआई बैंक की चेतावनी
भारतीय स्टेट बैंक ने लोगों को चेतावनी दी है कि वे चार्जिंग स्टेशंस पर या किसी भी सार्वजनिक स्थान पर अपना स्मार्टफोन चार्ज करने से बचें. जैसे, एयरपोर्ट, ट्रेन, होटल या मॉल में अपना मोबाइल चार्ज करने से पहले आपको सावधानी बरतने की जरूरत है. क्योंकि आपके मोबाइल में मौजूद सारे डेटा को हैकर्स तक पहुंचाकर एक फ्री चार्जिंग स्टेशन आपको मुसीबत में डाल सकता है.

यूएसबी केबल के जरिये हैकर्स जुटाते है जानकारी
आपको बता दें कि पिछले दिनों साइबर सिक्योरिटी फर्म कैस्परस्की लैब्स के रिसर्चर्स ने बताया था कि फोन को चार्ज करने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले पब्लिक चार्जिंग स्टेशन के यूएसबी केबल के जरिये हैकर्स आपके स्मार्टफोन में खतरनाक मालवेयर और वायरस इंस्टॉल कर सकते हैं. बताया यह भी गया था कि ‘जूस जैकिंग’ नाम के तरीके का इस्तेमाल करके हैकर्स आपके डिवाइस का नाम, मैन्युफैक्चरर, मॉडल और सीरियल नंबर जैसी जानकारी जुटा सकते हैं.

हैकर्स हुए सक्रिय
लोगों के बैंक खाते से पैसे चुराने के लिए हैकर्स बेहद सक्रिय हो रहे हैं. मीडिया में आयी कुछ रिपोर्ट्स में लोगों ने दावा किया है कि उन्होंने सार्वजनिक मोबाइल चार्जिंग पोर्ट में अपना मोबाइल चार्ज किया था, जिसके बाद उनके बैंक खातों से पैसे चोरी हो गए.

कैसे जुटाते है जानकारी
दरअसल, हैकर्स पब्लिक चार्जर्स में एक अतिरिक्त चिप लगा देते हैं, जिसमें मालवेयर होता है. इस चिप के जरिये चार्जिंग के लिए प्लग किये गए किसी भी फोन के डिटेल्स तक पहुंचा जा सकता है. इस तरह की घटनाएं महानगरों से होते हुए अब छोटे शहरों तक भी पहुंच रही हैं.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap