73 साल की उम्र में कर चुकी है 12 देश पार, अब दौडेंगी इंग्लैंड से नेपाल तक


जिस उम्र में हमारे देश के लोग बुजुर्ग मानकर उनकी सेवा में लग जाते है लोग, और इतनी उम्र में ज्यादा घूमने फिरने की आजादी भी नहीं देते हैं. ऐसे में अगर किसी ऐसे शख्स का जज्बा देखेंगे तो निश्चित ही बाकी बुजुर्गों में भी जोश भर जाएगा, खून में फिर से गर्मी आ जाएगी और उठ खड़े होंगे. इस उम्र अपने निश्चित किए रास्तों से कुछ और दूरी मापने के लिए तैयार हो जाएंगे.

इंग्लैंड से नेपाल
आपको बता दें कि ब्रिटेन की 73 साल की रोजी स्वेल पोप इंग्लैंड से नेपाल दौड़कर जा रही है. ताकि चैरिटी के जरिए वह भूकंप पीड़ित परिवारों की मदद कर सकें. रविवार को इस्तांबुल पहुंचकर रोजी ने बताया कि उन्होंने 2018 में ‘रन रोजी रन’ कैंपेन के तहत दुनिया भर में दौड़ना शुरू किया था. अब तक वह 12 देश पार कर चुकी हैं.

सोने के लिए नहीं है कोई निश्चित ठिकाना
रोजी ने कहा, मैं कभी नहीं जानती कि मैं किस रात कहां सोती हूं. मैं मैदान में सोती हूं, कभी कभी गलियों में, सुबह उठती हूं और दौड़ना शुरू करती हूं, मैं उन लोगों से मिलती हूं, जिनसे मैं कभी नहीं मिल सकूंगी.

पूरी दुनिया में बनाए है रिश्ते
रोजी का अगला स्टॉप जॉर्जिया में होगा. वह हर दिन करीब 20 किमी दौड़ती हैं और लोगों से मदद मांगती हैं. वह एक ट्रॉली बांधकर दौड़ती हैं, जिसमें उनकी जरूरतों का सामान है. रोजी खुद का परिचय एक सामान्य सीनियर सिटीजन के रूप में देती हैं, लेकिन उन्होंने पूरी दुनिया में रिश्ते बनाए हैं. अपने सफर को लेकर रोजी का कहना है, यह जिंदगी को कुछ ज्यादा देने का तरीका है. क्योंकि आप दुनिया में आने और इससे बाहर का इंतजार नहीं करते हैं।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap