मार्च से दिसंबर के बीच प्याज के दामों में पांच गुना हुई है बढ़त


जब तक खाने में प्याज का तड़का न लगा हो तब तक खाने में स्वाद ही नहीं आता है. लेकिन प्याज के बढ़ते दामों ने लोगों का जायका बिगाड़ दिया है.

इस मंहगे हुए प्याज को सबसे ज्यादा आम लोग ही भुगत रहे हैं क्योंकि उनके खर्चें ऐसी जरूरी वस्तुओं में हो रहे हैं. जिनके प्याज की तरह ही दाम बढ़ गए है. केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री राम विलास पासवान द्वारा लोकसभा में दी गई जानकारी से इस बात की पुष्ट‍ि हुई है. मार्च से दिसंबर के बीच प्याज के दाम में पांच गुना बढ़त हो गई है.

केंद्रीय मंत्री ने सौंपी कीमत सूची
आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री ने सांसद राहुल ने आवश्यक वस्तुओं की जो कीमत सूची सामने लाए है. उससे जाहिर होता है कि चावल, गेहूं, आटा, दाल, तेल, चाय, चीनी और गुड़ समेत सब्जियों और दूध के दाम में जनवरी के मुकाबले साल के आखिरी महीने दिसंबर में वृद्धि हुई है. बता दें कि 22 आवश्यक वस्तुओं के दाम में लगातार वृद्धि हुई है. खासतौर से आलू, टमाटर और प्याज के दाम में ज्यादा वृद्धि हुई है.

मंत्री ने बताया मांग-आपूर्ति में असमानता
मंत्री ने बताया कि मांग-आपूर्ति में असमानता, प्रतिकूल मौसमी दशाओं और सीजन की अन्य वजहों व परिवहन लागतों में वृद्धि, भंडारण की कमी के साथ-साथ जमाखोरों और कालाबाजारियों द्वारा कृत्रिम कमी पैदा करने के कारण आपूर्ति श्रृंखला पर दबाव आने से वस्तुओं के खुदरा मूल्य प्रभावित होते हैं.

उन्होंने आवश्यक वस्तुओं की कीमतों को नियंत्रण में रखने के लिए सरकार की ओर उठाए जाने वाले कदमों का भी जिक्र किया.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap