जानिए ऐडी ब्रूक अमेरिका में देशी चाय बेचकर कैसे बनी करोड़पति


अगर कोई कहे कि आपको लखपति बनना है तो चाय बेचिए और लखपति क्या करोड़पति बन जायेंगे तो कोई यकीन नहीं करेगा.

ज्यादात्तर इस बात को फिजूली समझेंगे लेकिन ये कटु सच है क्योंकि ऐसा ही कुछ विदेश में दिखने को मिला है जी हां, अमेरिका की एक महिला ने देशी चाय बेचकर अब तक लाखों रूपये कमा लिए है. अमेरिका में रहने वाली यह महिला ने इंटरनेशनल टी डे के मौके पर अपने इस बिजनेस के बारें में बताया है.

नेशनल ड्रिंक
चाय को भारत की नेशनल ड्रिंक कहा जाता है. भारत में बहुत कम ऐसे लोग हैं जो दफ्तर या घर में चाय पीना पसंद नहीं करते हैं. लेकिन कोलोराडो की ऐडी ब्रूक ने अमेरिकियों की जुबान पर चाय का ऐसा स्वाद चिपका दिया है कि वहां हर कोई उनका फैन हो गया है. अपने करीबियों को भी लाकर भारतीय चाय का स्वाद दिलाना नहीं भूलते हैं.

कैसे आया मन में विचार
साल 2002 यानी आज से करीब 17 साल पहले एडी भारत आई थीं. उन्हें यहां की चाय का स्वाद काफी पसंद आया. चार साल भारत रहने के बाद वह 2006 में वापस अमेरिका लौट गईं. अमेरिका लौटने के बाद वह भारतीय चाय का स्वाद चखने को तरस गई. उसी वक्त ऐडी का आइडिया आया कि क्यों न भारतीय चाय का स्वाद अमेरिका में लोगों को दिया जाए. ऐडी ने बहुत छोटे स्तर पर चाय का बिजनेस शुरू करने का मन बन लिया.

भक्ति चाय
एक साल बाद यानी 2007 में ऐडी ने चाय का व्यापार शुरू किया. आपको जानकर हैरानी होगी कि ऐडी ने अमेरिका में बिकने वाली इस नई चाय को ‘भक्ति चाय’ नाम दिया. शुरुआत में ऐडी के पास एक छोटी सी दुकान थी. वह दूसरे कैफे और रिटेलर्स के जरिए लोगों तक यह चाय पहुंचाती थीं. धीर-धीरे इस बिजनेस में उनके कदम मजबूत हो गए.

अदरक वाली चाय की तलब
उनके हाथ की बनी अदरक वाली चाय पीने की तलब लगों में ऐसी बढ़ी कि देखते ही देखते उनकी छोटी सी दुकान बड़े बिजनेस में कन्वर्ट हो गई. इसके बाद एक साल के अंदर ही भक्ति चाय ने अपना पहला वेबसाइट भी लॉन्च कर दिया और ऐडी की घर-घर घूमकर बेचने वाली कंपनी का ग्रोथ अब एक बिजनेस के रूप में तरक्की कर चुका है. इतने कम समय में ऐडी 200 करोड़ रुपये से ज्यादा की मालकिन बन गई. एक छोटी सी दुकान से शुरू होने वाली इस कंपनी में सैकड़ों लोग काम करते हैं.

चाय के कई फ्लेवर किए लॉन्च
ऐडी ने चाय के कई अलग-अलग फ्लेवर भी अमेरिका में लॉन्च कर दिए हैं. ऑफिस से लेकर घरों में इस चाय की डिमांड काफी ज्यादा है. भक्ति चाय का फ्लेवर यहां लोगों की जुबान पर चढ़ चुका है.

भारत से है खास रिश्ता
ऐडी कहती हैं, ‘मैं अमेरिका की हूं, लेकिन भारत से मेरा एक खास रिश्ता बन गया है. मैं जब भी भारत जाती हूं, मुझे हर बार कुछ नया देखने को मिलता है.’ नया सीखने को मिलता है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap