दिनचर्या में अपनाए ये पांच बातें दूर होंगी समस्याएं


हिंदू ग्रंथ गरूण पुराण में जीवन शैली के अनेक तरीके बताए गये हैं कि प्रत्येक व्यक्ति को अपनी दिनचर्या कैसे शुरू करनी चाहिए. आइए आपको बताते हैं सुबह उठकर दिन की शुरूआत कैसे करें इन पांच बातों से।

गरुड़ पुराण के एक श्लोक में उन पांच बातों का जिक्र है.

श्लोक
” स्नानं दानं होमं स्वाध्यायो देवतार्तनम्।
यस्मिन् दिने न सेव्यन्ते स वृथा दिवसो नृणाम्।। “

स्नान है दिन की अच्छी शुरूआत
स्नान मनुष्य की दिनचर्या का सबसे अहम हिस्सा है. धार्मिक पुराणों के अनुसार दिन की शुरुआत स्नान से ही होनी चाहिए. सुबह सबसे पहले स्नान करके पवित्र होने से पूरा दिन अच्छा जाता है और दिनभर ऊर्जा का संचार होता रहता है.

दान से मिलती है सुख-शांति
कई धर्म-ग्रंथों और पुराणों में दान के महत्व के बारे में बताया गया है. व्यक्ति को अपनी श्रद्धा के अनुसार रोज कुछ न कुछ दान करना चाहिए. ऐसा करने से धन-धान्य की कमी नहीं होती है और घर में सुख-शांति का माहौल बना रहता है.

तुलसी के पास जलाएं दीपक
घर की सुख-शांति के लिए हिंदू धर्म ग्रंथों के अनुसार हर किसी को अपनी दिनचर्या में हवन करने को शामिल करना चाहिए. रोज हवन नहीं कर पाएं तो भगवान और तुलसी के समक्ष दीया अवश्य जलाएं.

जप करने से पाएं शुभफल
हिंदू मान्यताओं के अनुसार पूरी श्रद्धा और विश्वास के साथ किए गए जप से बहुत अधिक फायदा मिलता है. मनुष्य को जप करने का शुभ फल जरूर मिलता है.

देवपूजन का बनाएं नियम
रोज सुबह स्नान करने के बाद भगवान की पूजा अर्चना करनी चाहिए. पूजा के बाद भगवान को भोग भी लगाना चाहिए. नित्य नियम से पूजा करने से घर-परिवार पर भगवान की कृपा बनी रहती है और परिवार पर कोई भी परेशानियां नहीं आती है. रोज पूजा करने का नियम अवश्य बना लें।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap