पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी और भारी बारिश होने से मैदानी इलाकों में शीतलहर के चलते पड़ सकती है कड़ाके की ठंड


शुक्रवार को उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बारिश और बर्फबारी के आसार बने हुए है. चार पहाड़ी जिलों समेत अन्य ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश होने के साथ ही बर्फ भी गिर सकती है. जबकि निचले और मैदानी इलाकों में घना कोहरा छाए रहने की उम्मीद है. पहाड़ों पर बारिश और बर्फबारी से मैदानी इलाकों में कड़ाके की ठंड बढ़ सकती है.

चारधाम में बर्फबारी
चारधाम समेत सभी ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी के चलते भीषण ठंड पड़ रही है. कई ऊंचाई वाले क्षेत्रों में तापमान शून्य के आसपास बना हुआ है. वहीं पहाड़ के कम ऊंचाई वाले इलाकों में भी बर्फबारी और ठंड के कारण लोगों की मुसीबतें बनी हुई है. मौसम विभाग की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ जिलों में बारिश और बर्फबारी होने का अनुमान है. 2500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले अन्य क्षेत्रों में भी बर्फबारी की संभावना है.

मैदानी क्षेत्रों शीतलहर
अन्य पहाड़ी क्षेत्रों में भी बारिश होने का अनुमान है. जबकि हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर समेत अन्य मैदानी और निचले इलाकों में घना कोहरा छाया रह सकता है. मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश के सभी क्षेत्रों में भीषण ठंड पड़ रही है. ज्यादातर क्षेत्रों में कोल्ड-डे कंडीशन बनी हुई है. कई इलाके शीतलहर की चपेट में हैं. उन्होंने बताया कि शुक्रवार और शनिवार को ज्यादातर स्थानों पर बारिश और बर्फबारी होने की संभावना बनी हुई है.

बर्फबारी में फंसे जवान
मुनस्यारी के रिलकोट में बर्फबारी के बीच फंसे आईटीबीपी के आठ जवानों और सात पोर्टरों को सुरक्षित निकालने की कोशिश शुरू हो गई हैं. आईटीबीपी ने रेलकोट में हैलीपेड तैयार कर लिया है. साथ ही एयरफोर्स अधिकारियों से फंसे जवानों और पोर्टरों को निकालने के लिए पत्र लिखा गया है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap