सर्दियों में दिल की बीमारी से बचने के लिए अपनाएं 7 टिप्स नहीं


घर हो या बाहर सभी लोग सर्दी आते ही सलाह ,देने लगते हैं ध्यान रखने की, लेकिन खुद अपना ध्यान नहीं रखने से कई बीमारियों से घिर जाते हैं.

बच्चे हो या युवा या बुजुर्ग सभी को सावधानी बरतने की जरूरत होती है. इस संबंध में प्रभात खबर ने आनंदलोक अस्पताल के चीफ कार्डिएक सर्जन डॉ अर्णव माइती से बातचीत की. पेश है बातचीत के कुछ अंश।

सर्दी में डॉक्टरों की माने सलाह
ठंड के दस्तक देते ही डॉक्टरों द्वारा कई तरह की सावधानी व परहेज बरतने की सलाह दी जाती है. खासकर दिल के मरीजों को खानपान और रहन-सहन में विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत होती है. कुछ बातों का ध्यान रखेंगे तो नहीं होंगे बीमार।

सूप का करें सेवन
मौसमी फलों और सब्जियों का सेवन करें. भोजन में फल को शामिल करें. ब्रोकली, गाजर और फूलगोभी के सूप का सेवन करें.

पीना न भूलें ब्लैक टी और ग्रीन टी
ब्लैक एवं ग्रीन टी सेहत के लिये लाभदायक होती है. इनमें फ्लेवोनॉयेड पाया जाता है जो हमारे बुढ़ापे पर अंकुश लगाता है. जो लोग ग्रीन टी का सेवन करते हैं, उनके हृदय आमतौर पर स्वस्थ पाये गये हैं और उनमें दिल की बीमारी कम होती है.

ताजे फलों का बनाए शर्बत
ठंड में शरीर को गर्म रखने के लिये हॉटपॉट का इस्तेमाल करते हुए हरी सब्जियों के सूप को भोजन का हिस्सा बनाना चाहिये. खासतौर पर राजमा, मसूर और काबली चने का उपयोग करें. ताजा फलों का शर्बत नाश्ते में लें.

खाते रहे हल्का फुल्का
अपने भोजन को सुव्यवस्थित करें. शरीर के वजन को नियंत्रित रखने के लिये चावल, पोस्ता और आलू का कम व संतुलित मात्रा में सेवन करें. सब्जियां अधिक लें. थोड़ी-थोड़ी देर पर हल्का आहार लें.

घर पर ही करें एक्सरसाइज
कमरे के अंदर भी शारीरिक रुप से सक्रिय रहें. जैसे योगासन, गेंद, नाच और फुटबॉल का आनंद लें. शरीर को चुस्त रखने के लिये तैराकी के अलावा सामान्य एरोबिक्स किया जा सकता है.

सर्दी से बचने के लिए कुछ न कुछ करते रहें.
बैठकर कम समय बितायें. टीवी शो वगैरह देखने के दौरान जॉगिंग और स्किपिंग करें या नाचें. कमरे में शारीरिक मनोविनोद का आनंद लें. अगर बारिश न हो रही हो तो बाहर जाकर चहलकदमी करें. पैदल या साइकिल पर चलकर बदन को गर्माहट दें. उपरी मंजिलों पर चढ़ने के लिये लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का उपयोग करें।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap