एवरेस्ट से लाया गया कचरा को रिसाइकिल कर बनाए गए कांच के उत्पाद


माउंट एवरेस्ट पर जाना ज्यादात्तर लोगों को भाता है लेकिन कभी ये सोचा है इन लोगों ने कि वहां पर भारी संख्या में जाने से वहां की हवा का माहौल कैसा होगा या हो जाएगा.

नहीं न. कुछ लोगों को सिर्फ जाने से मतलब होता है. वहां कितना कूड़ा करकट छोड़ कर आते हैं अंदाजा भी नहीं होगा. इसलिए माउंट एवरेस्ट को साफ-सुथरा रखने और गंदगी से बचाने के लिए नेपाल ने एक महीने का सफाई अभियान चलाया है. पर्वतीय क्षेत्र से अब तक 10 हजार किलो से ज्यादा कचरा इकट्ठा किया गया है.

कचरे के साथ हटाया गया शवों को
यह सफाई अभियान अप्रैल में शुरू किया गया था और इस ऐतिहासिक सफाई अभियान को सरकारी और गैरसरकारी एजेंसियों ने मिलकर बेस कैंप और चार उच्च शिविरों से समर्पित शेरपा टीम के साथ मिलकर चलाया, जिसमें माउंट एवरेस्ट से न सिर्फ कचरे को इकट्ठा किया गया बल्कि चार शवों को भी हटाया गया.

कचरे से निर्माण किया गया उत्पादों को
कचरे के ठोस अवशेषों को काठमांडू के पास स्थित लैंडफिल साइट में फेंकने के बजाय विभिन्न उत्पादों के लिए कच्चे माल के लिए अलग किया गया. इसके बाद कचरे को संसाधित करके रिसाइकिल किया गया.

किस कचरे को किया गया रिसाइकिल
समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने ब्लू वेस्ट टू वैल्यू के प्रधान नवीन विकास महारजन के दृष्टांत से बताया, हमने एकत्रित सामग्रियों को पहले विभिन्न श्रेणियों में अलग-अलग किया. जैसे-प्लास्टिक, कांच, लोहा, एल्युमीनियम और कपड़ा सबको अलग किया गया. इसके बाद 10 टन कचरे में से 2 टन को रिसाइकिल किया गया जबकि बाकी बचे 8 टनों में अधजली वस्तुओं और मिट्टी से सने हुए कचरे का रिसाइकिल नहीं किया जा सकता.

महारजन की टीम विभिन्न कार्यालयों के साथ
बताया जा रहा है कि साल 2017 से 50 से ज्यादा लोग काठमांडू स्थित ब्लू वेस्ट टू वैल्यू से जुड़े हैं, यह एक सामाजिक उद्यम है, जो कचरे से उपयोगी वस्तुएं बनाने का काम करती है. पहाड़ों से प्राप्त कचरे का रिसाइकिल करने के अलावा महारजन की टीम नगरपालिकाओं, अस्पतालों, होटलों और विभिन्न कार्यालयों के साथ भी काम कर रही है, जिससे कचरे का अधिक से अधिक सदुपयोग किया जा सके और लैंडफिल में भेजे गए कचरों की मात्रा को कम किया जा सके.

कचरे से तैयार होते कांच के उत्पाद
हालांकि यह कंपनी खुद कचरे को रिसाइकिल नहीं करती बल्कि मोवारे डिजाइन नामक एक अन्य फर्म इस काम में उनकी मदद करती है. जिससे रिसाइकिल किए गए कांच के उत्पाद बनाकर उन्हें ऑनलाइन बेचा सके.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap