कुल्लू मनाली में जाने राफ्टिंग के नियम बचें जुर्माने से


सालभर में दो बार मिलने वाली छुट्टियों में घूमने का मज़ा तो पहाड़ों पर ही आता है या यूं कह लें खाली वक्त बिताना पहाड़ों पर ही भाता है. जी हां, आइए जानते हैं सर्दी में लुत्फ़ उठाने की कुछ जगहों के बारें मे. साथ ही साथ कुछ ध्यान रखने योग्य बातें,

कुल्लू मनाली जाने से पहले नियम जान लें
नियम और कायदों को ताक पर रखकर लोगों की जान से खिलवाड़ करने वाले राफ्टिंग ऑपरेटरों पर प्रशासन ने शिकंजा कसा है. तीन राफ्टिंग ऑपरेटर्स पर 35 हजार रुपये जुर्माना ठोका गया है.

राफ्टिंग करने के लिए लाइसेंस बनाना न भूले
जानकारी के अनुसार, कुल्लू पुलिस ने बिना लाइसेंस के राफ्टिंग चलाने वाले तीन राफ्टिंग ऑपरेटरों के चालान कटे हैं. पुलिस भुंतर क्षेत्र में कार्रवाई अमल में लाई जा रही है.पुलिस के मुताबिक, ब्यास नदी में पर्यटन गतिविधियों के नियमों का उल्‍लंघन कर राफ्टिंग करवाई जा रही है. इसके बाद पुलिस ने राफ्टिंग ऑपरेटर और गाइड के दस्तावेजों की चेकिंग की तो तीन राफ्ट बिना लाइसेंस के पाई गई.

35000 का काटा चालान
पुलिस ने आकाश निवासी नेपाल, अक्षय निवासी झिरी मंडी और संजय निवासी झिरी मंडी के बिना लाइसेंस के चालान किए. पुलिस ने जांच में पाया कि राफ्ट में मेडिकल किट का सामान भी नहीं था. पुलिस ने तीनों का 35000 रुपये का चालान किया है. एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने मामले की पुष्टि क़ी है.

जुर्माना वसूलने पर कारोबारियों में मचा हड़कंप
कुल्लू, मनाली, मणिकर्ण में होटल, होम स्टे व कैंपिंग साइट मालिकों को टूरिज्म एक्ट के उल्लंघन के तहत जुर्माना वसूला गया है.25 होटल, होम स्टे, कैंपिंग साइट मालिकों के चालान किए है, जिसमें पर्यटन विभाग ने इन सभी पर्यटन कारोबारियों से 87 हजार रुपये का जुर्माना वसूला है. पर्यटन विभाग की इस कार्रवाई से कुल्लू जिला में होटल कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap