अब जाइए पार्टनर के साथ कर्नाटक के हिल स्टेशन की सैर करने


घूमना हर किसी को बेहद पसंद होता है. घुमक्कड़ी को एक वक्त की रोटी न दी जाए तो चलेगा लेकिन घूमने के लिए रात-दिन घूमते रहेंगे.

सुहाने मौसम में पार्टनर के साथ घूमने का मौका मिले तो सोने पे सुहागा समझिएगा. लेकिन दुविधा में रहते है कि ऐसी कौन-सी जगह चुने जहां पर घूमने का पूरा लुफ्त़ उठा सकें. तो आइए बताते है आपको एक ऐसी जगह के बारें में, जहां पर आप अपने पार्टनर के साथ आराम से बिता सकते हैं टाइम।

क्यों पड़ा हिल स्टेशन का नाम चिकमगलूर
अपने जीवनसाथी के साथ सुहाना मौसम और हल्की-हल्की बारिश में कुछ पल गुजारना चाहती हैं तो आपको कर्नाटक के इस हिल स्टेशन जरूर जाना चाहिए. हम बात कर रहे हैं चिकमगलूर हिल स्टेशन की जो कर्नाटक में बहुत ही खूबसूरत जगह है. चिकमगलूर का अर्थ है छोटी बेटी का नगर. ऐसा माना जाता है कि चिकमगलूर को रुकगनगडे की बेटी को दहेज के तौर पर दिया गया था और इसी कारण इस शहर का नाम चिकमगलूर पड़ा.

कर्नाटक का हिल स्टेशन
यह कर्नाटक का एक बेहद ही खूबसूरत हिल स्टेशन है. इस जगह की खूबसूरती टूरिस्ट्स को यहां आने के लिए मजबूर कर देती हैं. यहां का शांत वातावरण, बहती हुईं नदियां और चारों तरफ खूबसूरत नजारे यहां आने वाले टूरिस्ट को अपना दीवाना बना देते हैं. यहां पर काफी मात्रा में चाय और कॉफी के बाग हैं और इन बागों में उगाई जाने वाली चाय और कॉफी की गुणवत्ता पूरे देश में फेमस है. जिन लोगों को एडवेंचर का शौक है वे यहां की मुलायनगिरी पहाड़ी पर जाकर एडवेंचर का भरपूर लुफ्त उठा सकते हैं. ये पहाड़ी कर्नाटक की सबसे ऊंची पर्वतीय चोटी है. चिकमगलूर का हेबे फॉल्स सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है.



कुदरेमुख पर्वमाला
यहां का महात्मा गांधी उद्यान बहुत ही खूबसूरत है और इस गार्डन को देखने के लिए दूर-दूर से टूरिस्ट्स आते हैं. यहां की कुदरेमुख पर्वमाला एक बेहत ही सुंदर पर्वत श्रृंखला है, इस पर स्थित घास के मैदान और घने जंगल इस स्थान को और भी खास बना देते हैं. यह पर्वतमाला दूर से देखने पर घोड़े के मुख के जैसी प्रतीत होती है और इसी कारण इस पर्वतमाला का नाम कुदरेमुख पर्वमाला रखा गया. यहां का गुलाब का बगीचा, सुंदर जलप्रपात इस स्थान की खूबसूरती को और बढ़ा देता है।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap