जानिए, दूध पीने का सही वक्त जानकर दूर करें अपना तनाव


हम सभी ने बचपन से अपने बड़े-बुजुर्गों से सुना है कि ‘दूध पीने से ताकत आती है’. हां बड़े बुजुर्गों की राय में बिल्कुल भी संदेह नहीं है. कि दूध पीना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है.

इसमें विटामिन ए, के और बी 12, थाइमिन और निकोटिनिक एसिड, मिनरल जैसे- कैल्शियम, फास्फोरस, सोडियम और पोटेशियम पाए जाते हैं. ये हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद हैं और एनर्जी देते हैं, लेकिन दूध पीने के साथ यह जानना भी महत्वपूर्ण है कि दूध पीना इतना जरूरी क्यों है, दूध पीने के तरीके क्या हैं और इसके सेवन का सही समय क्या है….

दूध पीने से तनाव होता है दूर
दूध दांतों और हड्डियों की कैल्शियम की जरूरत को पूरा करता है. इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन होता है. यह मांसपेशियों के विकास के लिए भी बहुत जरूरी है. हल्का गर्म दूध पीना तनाव से राहत दिलाने में मदद करता है. दूध पीने के बाद दिनभर का तनाव छूमंतर हो जाएगा और राहत महसूस होगी.

सोते वक्त पीना चाहिए दूध
रात में दूध पीने से नींद अच्छी आती है. दूध में ट्रीप्टोफेन नाम के अमीनो एसिड की मौजूदगी से नींद के हार्मोन स्तर को बढ़ाने में मदद मिलती है. आयुर्वेद के अनुसार रात को सोने से पहले दूध पीने के लिए जरूरी है कि आप शाम के भोजन के दो घंटे बाद ही इसे पि‍एं ताकि रात को दूध पीने का लाभ मिल सके. दूध को कभी भी भोजन के साथ नहीं पीना चाहिए, क्योंकि यह जल्दी हजम नहीं हो पाता. इसे हमेशा अलग से गर्म करके पीना चाहिए.

बच्चों के लिए बनाएं स्वादिष्ट दूध
कई बार बच्चे सादा दूध पीने में आनाकानी करते हैं. वे दूध से दूर भागते हैं. ऐसे में दूध को स्वादिष्ट बनाकर उन्हें पिला सकते हैं. उन्हें इलाइची, बादाम या चॉकलेट वाला दूध दे सकते हैं. सेहत के लिए फ्रूट मिल्क, रोज मिल्क, नारियल का दूध, गुड़ वाला दूध, खजूर का दूध, केसर का दूध, हल्दी वाला दूध पीने से दोगुना फायदा होगा।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap