Saif Ali Khan : रोल इंट्रस्टिंग हो तो मुझे बूढ़े आदमी का किरदार निभाने में भी दिक्कत नहीं है


Saif Ali Khan

लीक से हटकर फिल्में हों या वेब-सीरीज, किरदार पिता का हो या विलेन का, ऐक्टर सैफ अली खान इन दिनों बेधड़क होकर खूब मेहन्नत कर रहे है । उनकी अगली फिल्म ‘तानाजी: द अनसंग वॉरियर’ भी ऐसी ही एक नजीर है, जिसमें वह नेगेटिव रोल में हैं। एक इंटरव्यू में उनसे पूछा गया के उनको नेगेटिव रोल करने में प्रॉब्लम नहीं होती ? तो उन्होंने जवाब दिया “नहीं, यह (तानाजी में उदयभान) भी एक माइंड ब्लोइंग विलन है।

यह बहुत स्ट्रॉन्ग रोल है और बहुत मुश्किल भी। वह थोड़ा पागल है, लार्जर दैन लाइफ भी है, एक आइटम है, तो हर सीन में थोड़ा ड्रामा है। उसकी एक अलग चाल है, बात करने का अलग ढंग है। ये सब मेरे लिए नया था, क्योंकि मैं थिएटर ऐक्टर नहीं हूं। जबकि, यह बहुत ही थिएट्रिकल परफॉर्मेंस है, तो इसे निभाने में थोड़ा डर भी लगा। मैंने अपनी मां को जब बताया, तो उन्होंने कहा कि अपना बेवकूफ मत कटवाना (हंसते हैं), मतलब ओवर मत करना। इस किरदार को समझने में थोड़ा टाइम भी लगा, लेकिन बहुत मजा आया।

साथ ही नवाब साहब इ ये ही कहा की उन्हें मुश्किल और चलेगिंग रोल्स करना बहुत पसंद है, अगर उसके सामने कोई ऐसा रोल आता है जो इंट्रस्टिंग हो फिर चाहे वो पिता का रोल हो या बूढ़े व्यक्ति का में उस रोल को ख़ुशी ख़ुशी एक्सेप्ट करूँगा । इसके बाद सैफ से पॉलिटिक्स में इंट्रस्ट के लिए भी पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया “नहीं उनमे इतनी क्षमता नहीं है की वो पॉलिटिक्स ज्वाइन करे , सारा एक अछि इंसान है मझे लगता है वो देश के लिए कुछ अच्छा कर सकती है ” ।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap