दिल्ली विधानसभा चुनाव की तारीख आने पर पार्टियों में बढ़ी हलचल


22 फरवरी को विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने से पहले दिल्ली के किसी भी पार्टी का एक मंत्री दिल्ली के नए मुख्यमंत्री का पद ग्रहण कर सकता है.

आपको बता दें कि, दिल्ली विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान हो गया है. दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे और नतीजे 11 फरवरी को आएंगे. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि इस बार दिल्ली चुनाव में 1.46 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. सभी 70 विधानसभा सीटों पर ईवीएम का प्रयोग होगा.

जल्द समाप्त होगा, दिल्ली विधानसभा का कार्यकाल
70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा का कार्यकाल 22 फरवरी को समाप्त होगा. नियमानुसार उससे पहले ही चुनाव संपन्न कराकर नई विधानसभा का गठन करना होगा. फिलहाल, दिल्ली चुनाव आयोग ने आज शाम में राजनीतिक दलों की बैठक बुलाई है. दिल्ली विधानसभा की तारीखों के ऐलान से पहले ही आम आदमी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस समेत अन्य पार्टियों ने तैयारी शुरू कर दी है. साथ ही चुनावी साल में पार्टियां एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप भी लगा रही हैं.

14 जनवरी से लागू होगा नोटिफिकेशन
दिल्ली में 8 फरवरी को डाले जाएंगे वोट, 11 फरवरी को होगी मतगणना. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि नाम वापस लेने का आखिरी दिन 21 जनवरी होगा. प्रेस कांफ्रेंस में चुनाव आयोग ने कहा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए नोटिफिकेशन 14 जनवरी से लागू होगा.

दिल्ली में आज से लागू होगा आचार संहिता
दिल्ली में आज से आचार संहिता लागू, EC कर रहा चुनाव की तारीखों का ऐलान. चुनाव आयोग ने बताया कि मीडिया मॉनिटरिंग टीमें का गठन किया गया है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि इस बार दिल्ली चुनाव में 1.46 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे.

2015 के विधानसभा चुनाव
मतदाता सूची के मुताबिक दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव में कुल 1.46 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे. 2015 विधानसभा चुनाव की समीक्षा करें तो 21 जनवरी तक नॉमिनेशन फाइल करने की आखिरी तारीख थी. 22 जनवरी को नॉमिनेशन पेपर की स्क्रूटनी की गई थी. इसके अलावा 24 जनवरी तक नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख रखी गई थी।

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap