जानिए, लौकी से बनने वाली दस रेसिपीज़ के बारें में


लौकी का रस, उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में रखता है. और साथ ही दिल की बीमारियों को बेहतर करने, वज़न कम करने और डायबिटीज़ को भी नियंत्रण में रखता है.

ज्यादात्तर युवा लोग लौकी खाना पसंद नहीं करते है अगर किसी दिन घर में लौकी बन जाए तो मुंह बनाकर थाली एक तरफ खिसकाकर रख देते है और पूरा दिन खाना नहीं खाते हैं. जबकि लौकी में कई औषधीय गुण होते हैं. जो सभी के लिए बहुत लाभकारी होता है. डॉक्टरों का कहना है कि लौकी के जूस में हाइड्रेटिंग एजेंट पाए जाते हैं, जो शरीर को अंदर से ठंडा रखने में मदद करता है.इसमें करीब 90 प्रतिशत पानी की मात्रा पाई जाती है. लौकी, गर्मियों के मौसम में पेट के लिए हल्की रहती है.यह जल्दी पच जाती है.इससे डायरिया, कॉन्सटिपेशन और नींद न आने की समस्याएं दूर होती है.

आपको बता दें कि लौकी का रस, उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में रखता है. और साथ ही दिल की बीमारियों को बेहतर करने, वज़न कम करने और डायबिटीज़ को भी नियंत्रण में रखता है. इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेशन गुण लिवर को ठीक करते हुए किडनी में मौजूद इंफ्लेमेशन को दूर करता है.

अगर आप घर में लौकी को क्रिएटिविटी तरीके से बनाएंगे तो इस नई तरह की डिस को सभी यानि की बच्चे की उम्र से लेकर बड़ों तक सभी को पसंद आएगी लौकी की सब्जी. अब आप सोच रहे होंगे कि लौकी बनाने के लिए किस प्रकार की क्रिएटिविटी की ज़रूरत है, तो इन 10 रेसिपीज़ को जानकर,  बिना वक़्त लगाए लौकी चने की दाल, लौकी के कोफ्ते, लौकी का मिठा हल्वा आदि चीज़ें तैयार करें.

पनीर के साथ लौकी

उबली हुई लौकी, नींबू में मैरीनेट की गई और आखिर में पनीर भरकर बेक की गई यह डिश सभी को अपना दिवाना बना देगी.

बॉटल गौड़ मुस्सल्लम

लौकी को मैरीनेट करके उसमें आलू भरे जाते हैं और फिर ग्रेवी के साथ तैयार की जाती है.

लौकी के कोफ्ते

लौकी के कोफ्तों को डीप फ्राई करके ग्रेवी में बनाया जाता है.

लौकी की मिठाई

खाने के बाद परोसे जानी वाली लौकी की मिठाई. यह स्वाद में मिठी और नमकीन होती है. इसे मसालों, हर्बस के साथ पकाया जाता है. आखिर में इसमें दूध और चीनी मिक्स की जाती है.

नट्स और मार्जरीन

लौकी को दूधी के नाम से भी जाना जाता है. इसमें ढेर सारे नट्स और मार्जरीन ( ये एक प्रकार का वेजिटेबल ऑयल होता है, जो मक्खन की जगह मिठाई में इस्तेमाल किया जा सकता है) डाली जाती है, जिसे पकाकर हल्वा तैयार किया जाता है.

लौकी मिक्स के साथ चना दाल

उत्तर भारत में सबसे ज़्यादा पकाई जाने वाले डिश. चना दाल को पकाकर उसमें लौकी मिक्स की जाती है. 

भुने बीन्स, प्याज और लौकी

लौकी को प्याज़ और हरी बीन्स के साथ भूना जाता है. आप इसमें अपनी पसंदीदा हर्बस और मसालें डाल सकते हैं. 


लौकी की सब्जी
देसी मसालों में पकाई जाने वाली इस लौकी की सब्जी में थोड़ी-सी क्रीम भी डाली जाती है. जिसे घीया मलाई कहते हैं।


नमकीन केक

गुजराती पारंपरिक रेसिपी, हांडवो, एक प्रकार का नमकीन केक होता है, जो दाल, चावल, लौकी, छाछ, हर्बस और मसालों की मदद से तैयार किया जाता है.

hi_INHindi
hi_INHindi
Share via
Copy link
Powered by Social Snap